विजय माल्या भारत लौटने को तैयार


नई दिल्ली ।  जहां एक तरफ ‘किंग ऑफ गुड टाइम’ रहे माल्या के निजी जैट को कोई खरीदार नहीं मिल रहा वहीं दूसरी ओर भारत वापिसी पर उन्होंने दो शर्तें रखी हैं। पहली तो यह की कि वे भारत में सुरक्षा और आजादी चाहते हैं। दूसरा पैसे लौटाने पर वे एसबीआई को नया सैटलमेंट ऑफर भी दे चुके हैं। माल्या ने उम्मीद जताई है कि उसकी दोनों बातों पर गौर किया जाएगा। यूनाइटेड ब्रेवरीज लिमिटेड(यूबीएल) की हालिया बोर्ड मीटिंग में शामिल लोगों ने यह जानकारी दी। माल्या वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए मीटिंग में शामिल हुए थे। यह बोर्ड मीटिंग शुक्रवार को हुई थी। बोर्ड सदस्यों ने बताया कि यूबीएल के चेयरमैन को बोर्ड और स्ट्रैटेजिक पार्टनर हैनेकेल का समर्थन है। माल्या दो महीने से ब्रिटेन में है। प्रवर्तन निदेशालय उन्हें ब्रिटेन से भारत लाना चाहता है। स्वतंत्र बोर्ड सदस्य किरण शॉ के मुताबिक हमारी उनसे कई मसलों पर बात हुई। माल्या का कहना है कि वे बैंकों से लिया कर्ज जल्द चुका देंगे व जो भी सवाल उनसे पूछे जाएंगे सबका जवाब भी देंगे। उन्होंने कहा कि वे भारत लौटना चाहते हैं लेकिन सबसे पहले अपनी सुरक्षा और आजादी का भरोसा चाहते हैं। बता दें कि माल्या पर बैंकों का 9 हजार करोड़ से ज्यादा का कर्ज बकाया है। मनी लॉन्ड्रिंग के मामले में प्रवर्तन निदेशालय उनसे पूछताछ करना चाहता है।