रेलवेः आरक्षण फार्म में पूरा नाम नहीं लिखने पर लगेगा जुर्माना


नई दिल्ली । रेलवे के एक नए नियम के मुताबिक अब रेल टिकट आरक्षण फॉर्म पर पूरा नाम लिखना पड़ेगा अन्यथा यात्रा के समय वे बेटिकट करार दे दिए जाएंगे और उन्हें जुर्माना भी भरना होगा। रेलवे ने अपील की है कि आरक्षण फॉर्म में पूरा नाम भरकर ही टिकट खरीदें। साथ ही इस नाम वाला पहचान पत्र भी यात्रा के समय साथ में रखें। टिकट दलालों पर नकेल कसने के इरादे से रेल प्रशासन ने यह कदम उठाया है। रेलवे ने बुिंकग क्लर्कों को भी निर्देश दिया है कि वह पूरे नाम वाले आरक्षण फॉर्म ही स्वीकार करें। आरक्षण फॉर्म के नाम वाले खाने की क्षमता १५ वैâरेक्टर (वर्ण) की होती है। यदि किसी का नाम इससे बड़ा है तो वह कम से कम इतने वैâरेक्टर तो भर ही दे। रेलवे अधिकारियों का कहना है दो से तीन वैâरेक्टर में नाम भरकर दलाल टिकट बुक करा लेते हैं। बाद में उससे मिलते-जुलते नाम वालों को ज्यादा पैसे लेकर टिकट बेच देते हैं। यात्री भी सफर के दौरान पूरा नाम वाला पहचान पत्र दिखा देते हैं। इस बदलाव से अब ऐसा नहीं हो पाएंगे। इससे दलालों के साथ मिलीभगत करने वाले बुिंकग क्लर्कों पर भी नकेल कसने में मदद मिलेगी। यदि वह अधूरे नाम वाले फॉर्म पर टिकट बुक करेगा तो उसके खिलाफ भी कार्रवाई होगी। पिछले दिनों टिकट रद्द कराने के नियम में भी बदलाव किया गया है।
ऋषि/ईएमएस ०६ जनवरी २०१६