रिजल्ट फर्जीवाड़ा की जांच के लिए न्यायिक जांच समिति का गठन


पटना। इंटर परीक्षा के रिजल्ट में गड़बड़ी की जांच के लिए न्यायिक जांच समिति का गठन कर दिया गया है। बिहार विद्यालय परीक्षा समिति के अध्यक्ष लालकेश्वर प्रसाद ने इसकी घोषणा की। पटना उच्च न्यायालय के रिटायर्ड न्याधीश घनश्याम प्रसाद इस जांच समिति के अध्यक्ष होंगे।
समिति में अवकाश प्राप्त जज जीपी श्रीवास्तव तथा सेवानिवृत्त आइपीएस अधिकारी मिठु प्रसाद भी शामिल हैं। इस कमेटी में अध्यक्ष शिक्षाविद के रूप में किसी पूर्व कुलपति को भी रख सवेंâगे। जांच समिति को अपनी रिपोर्ट यथाशीघ्र देने को कहा गया है। यह समिति रिजल्ट से जुड़ी गड़बड़ियों के साथ इंटर परीक्षा के विभिन्न पहलुओं की जांच करेगी। बताया गया है कि समिति एक महीने में अपनी रिपोर्ट दे देगी। बिहार विद्यालय परीक्षा समिति के अध्यक्ष लालकेश्वर प्रसाद ने कहा कि समिति को अपनी रिपोर्ट यथाशीघ्र देने को कहा गया है।
उल्लेखनीय है कि रिजल्ट में गड़बड़ी का मामला सामने आने और टॉपरों की योग्यता पर सवाल उठने के बाद बिहार बोर्ड को सभी टॉपरों की दोबारा जांच को विवश होना पड़ा। साक्षात्कार और जांच में उत्तर संतोषजनक न पाए जाने पर बोर्ड ने साइंस के टॉपर समेत दो के रिजल्ट रद्द कर दिए। आट्र्स की टॉपर रूबी के जांच परीक्षा में शामिल न हो पाने के लिए बोर्ड ने उसे अपना पक्ष रखने के लिए सात दिनोें का समय दिया है।
इस साल इंटर का रिजल्ट देश-दुनिया में बिहार की बदनामी का कारण बन गया है। इंटर आट्र्स और साइंस टॉपर के एक ही कॉलेज का होने और कॉलेज के विवादित होने की चर्चाओं के बीच मीडिया में इंटर आट्र्स की टॉपर रूबी कुमारी के साक्षात्कार ने पूरे राज्य को सन्न कर दिया था। साइंस टॉपर भी मामूली सवालों के जवाब देने में विफल रहा जिसके बाद मेरिट पर सवाल उठने लगे थे। अंततः बिहार विद्यालय परीक्षा समिति को सभी टॉपरों की जांच दोबारा करने का आदेश देना पड़ा। पंद्रह ऐसे टॉपरों को दोबारा जांच के लिए शनिवार को बिहार बोर्ड कार्यालय बुलाया गया जिनके रिजल्ट पर संदेह था।
आट्र्स की टॉपर रूबी कुमारी बीमार होने को कारण बताकर जहां जांच परीक्षा में शामिल नहीं हुई वहीं साइंस टॉपर राहुल श्रेष्ठ ने सवालों के दौरान विशेषज्ञों के सामने ही आत्महत्या की धमकी देकर सबको सन्न कर दिया था। साइंस के थर्ड टॉपर राहुल कुमार का उत्तर भी संतोषजनक नहीं मिला। इसपर साइंस के इन दोनों टॉपरों का रिजल्ट निरस्त घोषित कर दिया गया।