राहुल बना चुके हैं नई टीम,घोषणा का है इंतजार


नई दिल्ली। कांग्रेस संगठन में पेâरबदल को कुछ और दिन टालने की कोशिशें की जा रही हैं, जबकि नई टीम को तैयार कर लिया गया है। सूत्रों की मानें तो पार्टी का एक धड़ा इस कोशिश में है कि पेâरबदल को अभी आगे बढ़ाया जाए जिसके चलते आलाकमान दुविधा में घिर गया है। ाqस्थति यह हो गई है कि पार्टी ने बदलाव के नाम पर पूरी तरह से चुप्पी साध ली है। हालंकि सूत्र कहते हैं कि राहुल गांधी ने अपनी नई टीम को अंतिम रूप दे दिया है, केवल उसकी घोषणा का इंतजार है । इसके लिए कार्यसमिति की बैठक बुलाई जाए या नहीं इस पर भी पैâसला किया जाना है।
राहुल की टीम में सभी पूर्व मुख्यमंत्रियों को जगह दी जा सकती है। युवा चेहरों को सचिव बना प्रदेशों का प्रभार दिया जाएगा। उत्तर प्रदेश, महाराष्ट्र और बिहार जैसे राज्यों में नए अध्यक्षों की नियुक्ति होगी। नाम तय हो चुके हैं। पहले संकेत थे कि पांच राज्यों के चुनाव परिणामों के बाद कभी भी नई टीम की घोषणा कर दी जाएगी। इसके संकेत पार्टी ने अधिकृत रूप से दे भी दिए थे, पार्टी प्रवक्ता सुाqष्मता देव ने कहा कि पार्टी कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और उपाध्यक्ष राहुल गांधी के नेतृत्व में काम कर रही है और आगे भी करती रहेगी। जब कोई पैâसला होगा बता दिया जाएगा ।
राहुल संगठन को नया स्वरूप देने की तैयारी में हैं जिसमें महासचिवों को अलग-अलग विषयों जैसे कृषि, शिक्षा से जुड़े मामलों को जि मेदारी भी दी जा सकती है। राज्यों की जि मेदारी सचिवों को स्वतंत्र रूप से देने की है जिससे नए व पुराने नेताओं के बीच सामंजस्य बना रहे। इसके साथ एक कोर गु्रप और मार्गदर्शक मंडल भी बनाया जा सकता है।