राष्ट्रपति ने लौटाया गुजरात एंटी टेरर बिल


नईदिल्ली। राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी द्वारा गुजरात एंटी टेरर बिल लौटाने के पश्चात वेंâद्रीय गृह मंत्रालय ने भी विवादों में घिरे गुजरात वंâट्रोल ऑफ टेररिज्म एंड ऑर्गनाइज्ड क्राइम (जीसीटीओसी)-२०१५ को वापस कर दिया है। मंत्रालय ने इसे मंजूरी के लिए राष्ट्रपति सचिवालय भेजा था। इसकी वापसी के साथ ही कानून बनने की दिशा में यह बिल फिर से अटक गया है। गुजरात विधानसभा से पारित इस बिल को यूपीए सरकार भी पहले तीन बार ठुकरा चुकी है। साल २००१ में गुजरात विधानसभा ने इस बिल को पारित किया था। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी उस दौरान गुजरात के मुख्यमंत्री थे। आतंकवाद और संगठित अपराधों को सख्ती से रोकने की वकालत करने वाले इस बिल के कई प्रावधानों पर यूपीए सरकार ने कड़ी आपत्ति जताई थी।