यूएन में भारत ने पाक को आड़े हाथों लिया, कहा-आतंकियों को पनाह देनेवाला मानवाधिकार की बात कर रहा है


संयुक्त राष्ट्र। संयुक्त राष्ट्र में मानवाधिकारों पर हो रही बहस के दौरान भारत ने पाकिस्तान को आड़े हाथों लिया। संयुक्त राष्ट्र में भारत के स्थायी प्रतिनिधि सैयद अकबरुद्दीन ने कहा किपाकिस्तान ने हमेशा इस मंच का गलत उपयोग किया है। ज्ञातव्य है कि मानवाधिकारों पर बहस के दौरान पाकिस्तान ने कश्मीर का मसला उठाया। इस पर भारत ने कहा कि पाकिस्तान ऐसा देश है जहां आतंकवाद को पनाह दिया जा रहा हैै। भारत की ओर से सैयद अकबरुद्दीन ने कहा कि पाकिस्तान मानवाधिकारों का समर्थन करने का केवल नाटक करता है।

मानवाधिकार मामले में पाक का रिकॉर्ड पहले से खराब
अकबरुद्दीन ने कहा कि पाकिस्तान वह देश है जिसका मानवाधिकारों के मामले में पहले से ट्रैक रिकॉर्ड खराब रहा है। यही कारण है कि वह संयुक्त राष्ट्र के मानवाधिकार परिषद की सदस्यता हासिल नहीं कर सका। पाकिस्तान ने आज या इससे पहले कश्मीर को लेकर जो मुद्दे उठाए हैं, उस विषय पर इस फोरम में कहीं भी चर्चा करने का कोई अर्थ नहीं है।
भारत लोकतंत्र के लिए प्रतिबद्ध
अकबरुद्दीन ने कहा कि भारत पूरी तरह से सहिष्णु देश है, भारत कानून, लोकतंत्र और मानवाधिकारों के लिए प्रतिबद्ध है। मानवाधिकारों की रक्षा करना हमारे सिद्धांतों में रहा है और इसके लिए हम पूरा सहयोग करेंगे।