ममता बनर्जी को घेरने के लिए ‘चक्रव्यूह’!


कोलकाता। पाqश्चम बंगाल का वीवीआईपी विधान सभा क्षेत्र भवानीपुर में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की साख दांव पर है. बीजेपी ने नेता जी सुभाष चंद्र बॉस के परपोते चन्द्र कुमार बोस पर दांव खेला है तो कांग्रेस ने दीपा दास मुंशी को ममता के खिलाफ चुनाव में उतारकर चक्रव्यूह तैयार किया है.
पाqश्चम बंगाल की मुख्यममंत्री ममता बनर्जी दूसरी बार कोलकाता के भवानीपुर से विधान सभा चुनाव जीतने के लिए सड़कों पर पसीने बहा रही हैं. सभाएं ना कर सीधे लोगों से मिलकर वोट मांग रही हैं. अंदा़ज वही है. पांव में चप्पल, सूती साड़ी और चहरे पर गंभीर मुस्कान. अपने पांच सालों के काम के नाम पर वोट मांग रही हैं. वहीं वाम पंथियों के साथ गठजोड़ कर कांग्रेस ने पहले ममता के खिलाफ ओम प्रकाश मिश्र को टिकट दिया था पर बाद में बदल दिया गया. कहा जा रहा है कि ममता महिला है और उसे हराने के लिए किसी महिला को ही टिकट देना चाहिए. ऐसे में कांग्रेस ने दीपा दास मुंशी को सामने कर दिया. दीपा ममता को एक बड़ी चुनौती मानती हैं.
दीपा दास मुंशी बंगाल के जाने माने नेता प्रियरंजन दास मुंशी की पत्नी हैं. दीपा दास मुंशी रायगंज से एक बार सांसद और एक बार गोलपोखर से विधायक भी रह चुकी हैं. वहीं बीजेपी ने नेता जी सुभाष चंद्र बोस के पोते चंद्र कुमार बोस को ममता के खिलाफ टिकट दिया है.
भवानीपुर में कांग्रेस और कम्युनिस्ट पार्टी के बीच टक्कर रही है लेकिन अब इस पर तृणमूल का कब़्जा है. ममता बनर्जी पहली बार भवानीपुर से विधायक बनीं और राज्य की मुख्यमंत्री बन गर्इं. सुभाष चन्द्र बोस, श्यामा प्रसाद मुखर्जी, सत्यजीत रे जैसी जानी मानी हाqस्तयां इसी इलाके में रहते थे.
पिछले लोक सभा चुनाव में मोदी लहर की वजह से भवानीपुर विधान सभा क्षेत्र में बीजेपी को मामूली बढ़त मिली थी. ममता बंगाल की पहली महिला मुख्यमंत्री बनी. ममता कभी कांग्रेस की दोस्त थीं तो कभी बीजेपी की. लेकिन इस बार दोनों ही पुराने दोस्त ममता को शिकस्त देने के लिए चक्रव्यूह तैयार कर दिया है जिसे ममता किस तरह तोड़ती हैं इसके लिए नतीजे का इंत़जार करना होगा.