भारत, ब्रा़जील और दक्षिण अप्रâीका का संयुक्त नौसैनिक अभ्यास


पणजी। भारत, ब्रा़जील और दक्षिण अप्रâीका का संयुक्त नौसैनिक अभ्यास `आइबीएसअमर’ गोवा के समीप चल रहा है। ये अभ्यास पांचवीं बार हो रहा है, लेकिन भारतीय जल-क्षेत्र में ये पहली बार हो रहा है, अभ्यास २९ फरवरी तक चलेगा इससे पहले ये अभ्यास दक्षिण अप्रâीका के पास होता था।
इन अभ्यासों की योजना निरूपित करने का कार्यालय-चरण गोवा में होगा। व्यावहारिक समुद्री चरण के दौरान पनडुाqब्बयों से टक्कर लेने के उपायों और नभरक्षा प्रणाली के उपयोग का अभ्यास किया जाएगा, साथ ही, समुद्र में अवैध गतिविधियाँ कर रहे जहा़जों का पता लगाने और ऐसे जहा़जों को पकड़ने के तरीकों का भी। रक्षा-कार्यों और हवाई कार्रवाइयों तथा सामरिक प्रक्रियाओं का अभ्यास भी नौसैनिक करेंगे।
नौसेना के मुताबिक मौजूदा अभ्यास िंहद महासागर में समुद्री सुरक्षा को बेहतर करने में मदद करेगा। ‘आईबीएसए मार’ की पांचवी कड़ी में भारत का प्रतिनिधित्व आईएनएस मुंबई, आईएनएस त्रिशुल और आईएनएस शाqल्क कर रहा है। इस त्रिपक्षीय अभ्यास में फास्ट अटैक क्राफ्ट, सी हैरियर और मिग २९ लड़ावूâ विमान भी शामिल हैं।
२००६ में शुरू हुआ यह त्रिपक्षीय अभ्यास पहले के मुकाबले काफी जटिल हो गया है। नौसेना के मुताबिक, `आईबीएसए मार’ ज्यादा परिपक्व और जटिल हो गया है। इसमें भारत, ब्राजील और दक्षिण अप्रâीका की ओर से जहाज, पनडुब्बी, विमान और विशेष बलों की भागीदारी हो रही है”।