प. बंगाल: अगले दो चरणों में 107 करोड़पति चुनावी मैदान में


कोलकाता। पाqश्चम बंगाल विधानसभा चुनाव के आने वाले तीसरे और चौथे चरण में १०७ उम्मीदवार ऐसे है जिनके पास करोड़ों की सम्पत्ति है साथ ही १२८ उम्मीदवार ऐसे हैं जिनके खिलाफ आपराधिक मामले दर्ज हैं। उम्मीदवारों के शपथ-पत्र से यह खुलासा हुआ है कि तीसरे चरण के ४१८ उम्मीदवारों में से ६१ और चौथे चरण के ३४५ में से ४६ करोड़पति या कई करोड़ के मालिक हैं। तीसरे चरण के करोड़पतियों की सूची में तृणमूल कांग्रेस सबसे आगे है। इसके २७ उम्मीदवार करोड़पति हैं, १४ उम्मीदवारों के साथ दूसरे स्थान पर भारतीय जनता पार्टी है और ११ के साथ कांग्रेस तीसरे स्थान पर है। कोलकाता के श्यामपुकुर विधानसभा क्षेत्र से भाजपा के सोमब्रत मंडल तीसरे चरण के चुनाव में सबसे धनी प्रत्याशी हैं। उनके पास २८.६५ करोड़ से अधिक की संपत्ति है। तीसरे चरण के ४१८ प्रत्याशियों की औसत संपत्ति ७४.७६ लाख रुपये है। चौथे चरण में तृणमूल कांग्रेस ने १९ करोड़पति प्रत्याशी उतारे हैं जबकि इसी चरण में भाजपा के आठ और कांग्रेस के पांच करोड़पति प्रत्याशी हैं। तृणमूल कांग्रेस के उम्मीदवार और राज्य के वित्त मंत्री अमित कुमार मित्र उत्तरी २४ परगना जिले के खारदाहा विधानसभा क्षेत्र से मैदान में हैं और उनके पास ११.७४ करोड़ की संपत्ति है। चौथे चरण के ३४५ उम्मीदवारों की औसत संपत्ति ५०.०२ लाख रुपये है। तीसरे चरण के ८० उम्मीदवारों के खिलाफ आपराधिक मामले हैं। इनमें ६५ के खिलाफ हत्या, बलात्कार, हत्या के प्रयास और अपहरण जैसे गंभीर अपराध के मामले हैं। इनमें तृणमूल कांग्रेस के २० उम्मीदवार हैं जिनके खिलाफ मामले दर्ज हैं। कांग्रेस और माक्र्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी के १६ प्रत्याशियों के खिलाफ और भाजपा के १५ प्रत्याशियों के खिलाफ ऐसे मामले दर्जक हैं। चौथे चरण में तृणमूल कांग्रेस के १५ उम्मीदवारों के खिलाफ जबकि भाजपा के सात एवं कांग्रेस और माकपा के छह-छह प्रत्याशियों के खिलाफ आपराधिक मुकदमे दर्ज हैं। तीसरे चरण के तहत ६२ क्षेत्रों में २१ अप्रैल को मतदान होना है। चौथे चरण में ४९ विधानसभा क्षेत्रों में २५ अप्रैल को वोट डाले जाएंगे।