प्रचंड जीत के बाद केजरीवाल ने पेश किया सरकार बनाने का दावा


नई दिल्ली। दिल्लीr विधानसभा चुनाव में भारी जीत दर्ज करने और आप विधायक दल का नेता चुने जाने के बाद अरविंद केजरीवाल ने मंगलवार को उपराज्यपाल नजीब जंग से मुलाकात की और राजधानी दिल्लीr में सरकार बनाने का दावा पेश किया। केजरीवाल ने आप के वरिष्ठ नेता मनीष सिसोदिया के साथ जंग के साथ लगभग २५ मिनट तक बातचीत की। बैठक के बाद राजनिवास ने एक प्रेस विज्ञप्ति जारी करके कहा कि उपराज्यपाल अब अपनी सिफारिश राष्ट्रपति को भेजेंगे ताकि सरकार का गठन हो सके। यह नियमों के तहत एक औपचारिकता होती है। केजरीवाल १४ फरवरी को रामलीला मैदान में मुख्यमंत्री पद की शपथ ग्रहण करेंगे। केजरीवाल ने पिछले साल १४ फरवरी को ही सीएम पद से इस्तीफा दिया था। विज्ञप्ति में कहा गया है कि परिणाम घोषित होने के बाद केजरीवाल ने उप राज्यपाल को अवगत कराया कि उन्हें आम आदमी पार्टी विधायक दल का नेता चुन लिया गया है। इससे पहले आप के नवनिर्वाचित विधायकों की एक बैठक में केजरीवाल को आप के विधायक दल का नेता चुन लिया गया। केजरीवाल के नाम का प्रस्ताव उनके नजदीकी सहयोगी सिसोदिया ने किया जो पटपड़गंज से जीते हैं। इसका विधायकों ने भारी समर्थन किया। केजरीवाल ने कान्स्टीट्यूशनल क्लब में विधायकों की बैठक को संबोधित करते हुए विधायकों को अहंकार दिखाने के खिलाफ चेतावनी दी। उन्होंने कहा कि अहंकार ही कांग्रेस और बीजेपी दोनों की हार के लिए जिम्मेदार था। उन्होंने कहा कि कांग्रेस अहंकार के चलते शून्य पर सिमट गई। केंद्र में सत्तारूढ़ बीजेपी के खिलाफ कोई बड़ा घोटाला नहीं है लेकिन वह उनका अहंकार था जिसके चलते चुनाव में उनकी हार हुई। आप के एक विधायक ने कहा कि उन्होंने हमसे किसी तरह का अहंकार नहीं दिखाने और उस जनादेश का सम्मान करने के लिए कहा जो हमें मिला है। द्वारका से आप विधायक आदर्श शास्त्री ने कहा कि केजरीवाल ने विधायकों से पार्टी की ओर से किये गए वादे को पूरा करने के लिए कहा आम आदमी पार्टी के नेता अरविंद केजरीवाल ने रामलीला मैदान में होने वाले शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होने के लिए लोगों को आमंत्रित किया है। देर शाम एफएम रेडियो पर जारी एक विज्ञापन ने आप प्रमुख ने पिछली बार हुए शपथ ग्रहण समारोह वाले स्थल पर लोगों से आने की अपील की है। अपने मंत्रियों के साथ केजरीवाल १४ फरवरी को शपथ ग्रहण करेंगे। केजरीवाल ने विज्ञापन में कहा है कि यह मेरा कर्तव्य है कि आपको आपका अधिकार दूं। कृपया रामलीला मैदान में शपथ ग्रहण समारोह में पधारें क्योंकि मैं मुख्यमंत्री बनने नहीं जा रहा हूं। आप सभी बनने जा रहे हैं। क्या आप रामलीला मैदान आएंगे। उन्होंने कहा है ‘‘हम लोग दिल्लीr को बेहतर जगह बनाने के लिए एक शपथ लेंगे। हम लोग आम आदमी की खुशियां वापस लाने के लिए शपथ लेंगे। कृपया जरूर आयें क्योंकि मैं आपकी आवाज हूं। जय हिन्द। दिल्लीr में आम आदमी पार्टी की झाड़ू चल गई है। जीत ऐसी की बड़े बड़े पंडित हैरान हैं। दो धुरंधर पार्टियां बीजेपी और कांग्रेस का तो सुपड़ा साफ हो गया है। केजरीवाल की आम आदमी पार्टी ने ७० में से ६७ सीटें जीत ली हैं, बीजेपी को सिर्फ ३ सीटें नसीब हुई हैं और कांग्रेस तो खाता ही नहीं खोल पाई है।