पीएम मोदी बोले, 33 फीसदी फसल नुकसान पर मिलेगा मुआवजा


– मुद्रा बैंक की हुई शुरुआत
– छोटे व्यापारियों को मिलेगा १० लाख का लोन
नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि अब तक ५० प्रतिशत से ज्यादा फसल नुकसान होने पर मुआवजा मिला करता था लेकिन अब सरकार ने तय किया है कि ३३ फीसदी फसल का नुकसान होने पर मुआवजा दिया जाएगा।
प्रधानमंत्री मोदी ने नई दिल्ली में मुद्रा बैंक के लॉिंन्चग के अवसर पर कहा कि सरकार किसानों की मदद के लिए हर संभव प्रयास कर रही है। मुद्रा बैंक का लक्ष्य है गैर-वित्तपोषित छोटे उद्यमियों को धन मुहैया कराना और बचत की आदत बढ़ाने की जरूरत पर कार्य करना।
मोदी ने कहा कि किसानों को मिलने वाले मुआवजे को १.५ गुना बढ़ाने का सरकार ने पैâसला किया है। वहीं फसल की बर्बादी पर पहले १ लाख रु मुआवजे के रूप में दिये जाते थे, जो बढ़ा कर अब डेढ़ लाख रूपये कर दिया गया है। मोदी ने बताया कि बैंकों से कहा गया है कि वे बेमौसम बारिश से प्रभावित किसानों के ऋण का पुनर्गठन करें, बीमा वंâपनियों से भी उनके दावों का निपटान सक्रियता से करने के लिए कहा गया है।
उन्होंने देश में स्वरोजगार को बढ़ावा देने की जरूरत पर बल देते हुए बताया कि ५.७० करोड़ लोगों ने छोटे उद्योंगों से १२ करोड़ लोग को रोजगार दिया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि बड़े औद्योगिक घराने सिर्पâ १.२५ करोड़ लोगों को रोजगार प्रदान करते हैं जबकि छोटे उद्यमी १२ करोड़ लोगों के लिए सृजन करते हैं। उन्होंने बतौर गुजरात के मुख्यमंत्री रहते पतंगों पर गुजरात सरकार के काम को याद करते हुए कहा कि मात्र थोड़ा सा ध्यान देकर इस उद्योग को ३५ करोड़ से ५०० करोड़ का किया गया ।