पारूल युनिवर्सिटी दुष्कर्म मामला : मजिस्ट्रेट के सामने जयेश पटेल का भांडा फूटा


वडोदरा। दुष्कर्म मामले में पीडि़ता सहित 4 छात्राओं का सीआरपीसी 164 के तहत मजिस्ट्रेट के समक्ष बयान लिया गया। छात्राओं के बयान के बाद मजिस्ट्रेट के सामने डॉ. जयेश पटेल का भांडा फूट गया। पारूल युनिवर्सिटी की नर्सिंंग की छात्रा पर दुष्कर्म की शिकायत दर्ज होने के बाद हड़कंप मच गया है। मजिस्ट्रेट के समक्ष छात्राओं ने बताया कि दुष्कर्म से पहले जयेश पटेल ने बीयर पिया था।
आरोपी द्वारा गवाहों को डराने-धमकाने की चर्चा कल दिनभर चलती रही। घटना के दूसरे ही दिन पुलिस ने सीआरपीसी 164 के तहत पीडि़ता और अन्य तीन छात्राओं का बयान लिया। पुलिस ने बताया कि छात्राओं ने दुष्कर्म होने की बात स्वीकार की है।

छात्राएं अपना सामान लेकर पुलिस थाने पहुंची
पारूल युनिवर्सिटी में दुष्कर्म का मामला प्रकाश में आने के बाद छात्राएं डरी-सहमी दिखाई दे रही हैं। पुलिस ने होस्टल में 40 से अधिक छात्राओं से पूछताछ की है। पूछताछ के बाद 3 छात्राओं ने वापस होस्टल जाने से इंकार कर दिया। तीनों छात्राएं होस्टल से अपना सामान लेकर थाने आयी थी। पुलिस छात्राओं के माता-पिता के संपर्क करने की कोशिश कर रही है।

जयेश पटेल का मोबाइल बंद, फरार
दुष्कर्म के आरोपी डॉ. जयेश पटेल का मोबाइल बंद है। हाल में पुलिस गिरफ्तारी से बचने के लिए जयेश पटेल फरार हैं। पुलिस जयेश पटेल की खोजबीन कर रही है। जयेश पटेल हर 6 महीने विदेश जाते थे। जयेश पटेल के विदेश भाग जाने की चर्चा जोरों से चल रही है।