‘पाकिस्तान-चीन एक साथ युद्ध छेड़ दें तो भारत के पास पर्याप्त लड़ाकू विमान नहीं’


नई दिल्ली (ईएमएस)। अगले हफ्ते पाकिस्तानी सीमा से १०० किलोमीटर दूर पोखरण में भारतीय वायुसेना सबसे बड़ा युद्धभ्यास करने जा रही है, लेकिन उससे पहले आज वायुसेना के वाइस चीफ एयर मार्शल बीएस धनोआ ने यह कहकर सनसनी पैâला दी कि अगर पाकिस्तान और चीन एक-साथ भारत के खिलाफ युद्ध छेड़ देते हैं तो मुकाबला करने के लिए वायुसेना के पास पर्याप्त लड़ावूâ विमान नहीं हैं। सह-वायुसेना प्रमुख एयर वाइस मार्शल बीएस धनोआ आज राजधानी दिल्ली में १८ मार्च से शुरू हो रहे युद्धभ्यास, `आयरन-फीस्ट’ के बारे में मीडिया से बातचीत कर रहे थे। इसी दौरान एक सवाल के जवाब में एयर मार्शल बीएस धनोआ ने कहा कि वायुसेना में वर्तमान में ३२ स्क्वाड्रन हैं जबकि जरूरत ४२ की है। एयर मार्शल ने यह भी कहा कि अनिवार्य र्सिविंसग की वजह से १०० में सिर्पâ ५५ विमान ही उपलब्ध हो पाते हैं। आपको ये बता दें कि इस महीने की १८ मार्च को भारतीय वायुसेना राजस्थान के पोखरण में आयरन-फीस्ट नाम की एक्सरसाइज करने जा रही है। एक्सरसाइज में एयरफोर्स के १८१ लड़ावूâ विमान और हेलीकॉप्टर हिस्सा ले रहे हैं और इसे वायुसेना का शक्ति-परीक्षण माना जा रहा है। खुद प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी की मौजूदगी में आयरन-फीस्ट एक्सरसाइज हो रही है। यह युद्धभ्यास दिन और रात दोनों में होगा।