पहले बीस स्मार्ट सिटी में सूरत और अहमदाबाद


नई दिल्ली ।  वेंâद्रीय शहरी विकास मंत्री एम वेंवैâया नायडू ने गुरूवार को मोदी सरकार के महत्वाकांक्षी स्मार्ट सिटी परियोजना के तहत विकसित किये जाने वाले पहले २० शहरों का ऐलान किया।अभी स्मार्ट सिटी चेलैंज के ९७ शहरों में से सिर्पâ २० का ऐलान किया गया है। परियोजना के तहत कुल सौ शहरों को स्मार्ट बनाया जाना है, हालांकि अभी जम्मू-कश्मीर समेत तीन शहरों के बारे में कोई अंतिम निर्णय नहीं हो पाया है।
स्मार्ट सिटी बनाने के पहले चरण में जिन बीस शहरों को चुना गया है उनमें भुवनेश्वर (ओडिशा), पुणे (महाराष्ट्र), जयपुर (राजस्थान), सूरत (गुजरात), कोाqच्च (केरल), अहमदाबाद (गुजरात), जबलपुर (मध्य प्रदेश), विशाखापटनम (आंध्रप्रदेश), सोलापुर (महाराष्ट्र), धवनगिरि (कर्नाटक), इंदौर (मध्य प्रदेश), नई दिल्ली नगर निगम (एनडीएमसी), कोयंबटूर (तमिलनाडु), काकीनाडा (आंध्रप्रदेश), बेलगाम (कर्नाटका), उदयपुर (राजस्थान), गुवाहाटी (असम), चेन्नई (तमिलनाडु), लुधियाना (पंजाब) और मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल शामिल है।

४० और शहरों का होगा ऐलान-
डिपेंâस कॉलेज में ‘राष्ट्रीय सुरक्षा और सामरिक अध्ययन’ पर एक कार्यक्रम को संबोधित करते समय ये घोषणा की। कार्यक्रम में विदेशी अफसरों, तीनों सेनाओं और सिविल र्सिवस के करीब १०० से ज्यादा लोगों ने हिस्सा लिया। नायडू के मुताबिक आगामी वर्षों में सरकार ४० ऐसे शहरों की घोषणा करेगी। परियोजना के तहत स्मार्ट बनाए जा रहे शहरों में बिजली-पानी की आर्पूित, सफाई और ठोस कचरा प्रबंधन, समुचित शहरी आवागमन, सार्वजनिक परिवहन, सूचना-प्रौद्योगिकी की कनोqक्टविटी, ई-गवर्नेंस, बुनियादी सुविधाएं और नागरिक सहभागिता पर खास ध्यान दिया जाएगा।