पठानकोट जैसे हमले की फ़िराक में जैश


नयी दिल्ली .  पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी की मदद से आतंकी संगठन एक बार फिर भारत को दहलाने की कोशिश में लगे हैं. प्राप्त जानकारी के अनुसार आतंकी एक बार फिर पठानकोट और गुरदासपुर की तर्ज पर हमले की साजिश रच रहे हैं. सेना की खुफिया रिपोर्ट की माने तो हमले की जिम्मेदारी जैश-ए-मोहम्मद को दी गई है जिसके स्लीपर सेल भारत के उत्तरी क्षेत्र की रेकी कर रहे हैं जिन्हें पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आइएसआइ मदद दे रही है.

इस संबंध में आज अंग्रेजी अखबार टाइम्स ऑफ इंडिया ने खबर छापी है जिसके अनुसार सेना ने इस बाबत पंजाब सरकार को एक रिपोर्ट सौंपी है जिसमें स्लीपर सेल से संबंधित जानकारी दी गई है. सरकार इस रिपोर्ट पर गंभीरता से काम कर रही है. रिपोर्ट की माने तो जैश के कमांडर अवैस मोहम्मद को मलेशिया भेजा गया है जहां से वह नकली पासपोर्ट लेके भारत में असानी से प्रवेश कर सके और हमले कर सके.

रिपोर्ट में कहा गया है कि अवैस पाकिस्तान के ओकारा क्षेत्र का रहने वाला है और उसे ही भारत में हमला करने की जिम्मेदारी दी गई है. गौरतलब है कि पठानकोट हमले को लेकर पाकिस्तानी जांच दल भारत आया था. इस जांच दल के भारत आने के करीब दो महीने बाद सेना ने सरकार को रिपोर्ट सौंपी है.

अंग्रेजी अखबार के अनुसार आतंकी संगठन भारत पर हमले के लिए पाकिस्तान अधिकृत पंजाब और खैबर पख्‍तूनख्‍वां में तीन नए ठिकाने बनाये हैं. यही नहीं भारत में हमले के लिए वह आतंकियों की बहाली भी कर रहा है. इन आतंकियों को वह ट्रेनिंग भी दे रहा है.

बताया जा रहा है कि जैश इन आतंकियों को बहावलपुर में ट्रेनिंग देने का काम कर रहा है. जैश इंडियन मुजाहिद्दीन और आइएसआइ के माध्‍यम से स्लीपर सेल की मदद लेकर भारत पर हमले के फिराक में है.