नेहरु ने चिट्ठी में नेताजी को लिखा था युद्ध अपराधी


नई दिल्ली। नेताजी सुभाष चंद्र बोस की जयंती है. भारतीय राष्ट्रीय अभिलेखागार ने नेताजी सुभाष चंद्र बोस से संबंधित २५ फाइलों की डिजिटल कॉपी को हर महीने सार्वजनिक तौर पर उपलब्ध कराने की योजना बनाई है. इस कड़ी में आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी नेताजी से संबंधित १०० सीव्रेâट फाइलों को नेताजी के परिजनों की मौजूदगी में सार्वजनिक करेंगे. उससे पहले सूत्रों के हवाले से कई महत्वपूर्ण खुलासे हुए हैं. इसके मुताबिक देश के पहले पीएम जवाहरलाल नेहरू ने तत्कालीन ब्रिटिश पीएम एटली को लिखी चिट्ठी में नेताजी सुभाष चंद्र बोस को युद्ध अपराधी लिखा था. इसके अलावा रूस में पनाह लेने की बात भी लिखी थी. अभी फाइलों के सार्वजनिक होने से लंबे समय से रहस्य बने रहे नेताजी के जीवन के बारे में कई खुलासे होना बाकी है।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नेताजी को जयंती पर श्रद्धांजलि देते हुए कहा कि आज का दिन बहुत बड़ा दिन है क्योंकि नेताजी के बारे में फाइलें आज से सार्वजनिक होनी शुरू होंगी. फाइलों के सार्वनिक होने से इन फाइलों को सुलभ कराने के लिए लंबे समय से चली आ रही जनता की मांग पूरी होगी. यही नहीं, इससे नेताजी की मौत पर आगे और रिसर्च करने में भी सुविधा होगी.