नेशनल हेराल्ड पुनः शुरू होगा


लखनऊ। विवादित `नेशनल हेराल्ड’ समाचार पत्र समूह की प्रकाशक कम्पनी एसोसिएटेड जर्नल्स लिमिटेड ने अपने स्वरूप में बदलाव करते हुए गैर व्यवसायिक कम्पनी बनने का पैâसला किया है। यह पैâसला कम्पनी के शेयर धारकों की विशेष आमसभा में लिया गया है। विशेष आम सभा की तीन घंटे चली बैठक के बाद कम्पनी के प्रबंध निदेशक मोतीलाल वोरा ने बताया कि शेयर धारकों ने वंâपनी के स्वरूप को बदलते हुए इसे गैर व्यवसायिक स्वरूप प्रदान करने के लिए कई प्रस्तावों पर विचार के बाद अपनी सहमति प्रदान कर दी है। वोरा ने यह भी बताया कि आम सभा में एजेएल का नाम बदलने और इसके प्रकाशनों को पुन: शुरू करने का भी पैâसला किया गया है।
उल्लेखनीय है कि धारा आठ के तहत वाणिज्य, कला, विज्ञान, खेल, शिक्षा, शोध, समाज कल्याण, धर्म, दान और पर्यावरण संरक्षण या किसी भी और कल्याणकारी उद्देश्य के लिये स्थापित उपक्रम आते हैं। ऐसी कम्पनियों की गतिविधियों से हासिल होने वाले मुनापेâ को सिर्पâ कम्पनी के उद्देश्यों की र्पूित के काम में ही किया जा सकता है। धारा आठ की कम्पनी के शेयरधारकों को किसी तरह का लाभांश नहीं मिलता है। गौरतलब है ऐसा आरोप है कि सोनिया और राहुल ने कांग्रेस पार्टी से लोन देने के नाम पर नेशनल हेराल्ड की २००० करोड़ की संपत्ति हड़प ली है।