नेताजी से संबंधित सभी फाइलें एक साथ सार्वजनिक करें -आप


वाराणसी । आम आदमी पार्टी ने कहा कि नेताजी सुभाष चंद्र बोस को कथित तौर पर ‘युद्ध अपराधी’ बताने वाला जवाहर लाल नेहरू का तथाकथित पत्र ‘फर्जी’ है। संवाददाता सम्मेलन में आशुतोष और संजय िंसह ने नेहरू के तथाकथित पत्र को फर्जी बताया है। कांग्रेस ने भी उस पत्र को फर्जी बताया था। आप नेताओं ने कहा कि चुपचाप जो पत्र इंटरनेट पर डाला गया वह एक साजिश है, जिसमें कुछ लोग एक नेता को दूसरे की तुलना में बड़ा दिखाने का प्रयास कर रहे हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि पहले भी सरदार पटेल को अन्य नेताओं की तुलना में बड़ा दिखाने का प्रयास किया गया था। आप नेताओं ने कहा कि देश के स्वतंत्रता संग्राम से जिन लोगों का कोई संबंध नहीं है, वह लोग नेहरू और गांधी की छबि बिगाड़ने की कोशिश कर रहे हैं। आप नेताओं ने नेताजी सुभाषचंद्र बोस से संबंधित गोपनीय फाइलों को अलग-अलग हिस्सों में सार्वजनिक करने के लिए एनडीए सरकार की आलोचना भी की और कहा कि सभी गोपनीय फाइलों को एक साथ सार्वजनिक करना चाहिए।