निर्भया के दोस्त ने उठाए ‘इंडियाज डॉटर’ पर सवाल, कहा- कहानी झूठी है


नईदिल्ली । बीबीसी द्वारा दिल्ली में १६ दिसंबर २०१२ की रात गैंगरेप की शिकार हुई निर्भया पर डॉक्युमेंट्री दिखाए जाने के बाद विवाद लगातार बढ़ता जा रहा है। ब्रिटिश फिल्ममेकर लेस्ली उडवीन द्वारा बनाई गई इस फिल्म पर इस बार निर्भया के दोस्त ने सवाल उठाए हैं। अविंनद्र पांडे वही लड़का है जो उस रात निर्भया के साथ था और वे दोनों साउथ दिल्ली के एक मॉल से फिल्म देखकर वापस लौट रहे थे व इसी दौरान चलती बस में ६ लोगों ने अविंनद्र के सामने निर्भया के साथ गैंगरेप किया था।
अविंनद्र ने ‘इंडियाज डॉटर’ पर सवाल उठाते हुए डॉक्युमेंट्री पर सरकार द्वारा लगाए गए बैन का समर्थन करते हुए कहा कि इस फिल्म की निर्देशक लेस्ली उडवीन ने घटना को बेहद असंवदेनशील तरीके से दिखाया है। अविंनद्र ने कहा कि इस फिल्म में पीड़ित की बात कम की गई है और कई तथ्यों को छिपाने की कोशिश की गई है व कई चीजें झूठी बताई गई हैं।
अविंनद्र ने कहा कि उस रात क्या हुआ ये सिर्पâ उसे और ज्योति को ही पता है। निर्भया के दोस्त ने कहा कि ये डॉक्युमेंट्री सच्चाई से कोसों दूर है। अविंनद्र ने बताया कि इस डॉक्युमेंट्री में जिस टयूटर के बारे में बताया गया है उन्होंने कभी भी टयूटर सत्येंद्र के बारे में नहीं सुना, जिसने इस फिल्म में ज्योति के बारे में कई बातें बताई हैं।
अविंनद्र ने कहा कि ये बात सत्येंद्र को वैâसे पता कि उस रात मैं कौन-सी फिल्म देखना चाहता था। अविंनद्र ने कहा कि इस डॉक्युमेंट्री की वजह से देश के सम्मान को चोट पहुंची है और भावनाओं के साथ खिलवाड़ किया गया है। अविंनद्र ने कहा कि वे इसलिए इस डॉक्युमेंट्री का हिस्सा नहीं बने क्योंकि वे इससे खुश नहीं थे।