तिरुपति मंदिर को 2.678 करोड़ की आय होगी


हैदराबाद। तिरुमला ाqस्थत वैंकटेश्वर मंदिर की प्रबंधक समिति, तिरुमला तिरुपति देवस्थानम् (टीटीडी) ने वित्तीय वर्ष २०१६-१७ के लिए २,६७८.०७ का बजट तय किया है। अनुमान के मुताबिक, हुंडी से ही १०१० करोड़ की आय होगी।हुंडी में उन छोटे दानदाताओं की राशि शामिल होती है, जो दानपात्र में डालने के बजाए सीधे मंदिर प्रशासन को रकम देते हैं। पिछले वित्तीय वर्ष में यह राशि ९०५ करोड़ रुपए थी।
इस तरह लोगों द्वारा दिए गए बालों को बेचकर मंदिर प्रबंधन १५० करोड़ रुपए जुटाएगा। टीटीडी प्रमुख कृष्णर्मूित के मुताबिक, बैंक जमा से ७७८ करोड़ रुपए का ब्याज मिलेगा, जो पिछले साल ७६८ करोड़ रुपए था।
इसके अलावा दर्शन के लिए टिकटों की बिक्री कर मंदिर प्रबंधन २०९ करोड़ रुपए हासिल करेगा। मालूम हो, मंदिर में प्रवेश के लिए हर व्यक्ति को ३०० रुपए की टिकट खरीदना होती है। प्रसाद से मंदिर को १७५ करोड़ रुपए की आय होगी।
टीटीडी बोर्ड ने २,६७८.०७ करोड़ रुपए का बजट पारित किया है जो पिछले साल से ५० करोड़ रुपए अधिक है। यह बजट उस ाqस्थति में बढ़ा है, जब तेलंगाना से आने वाले श्रद्धालुओं की संख्या में भारी गिरावट दर्ज की गई है।
पृथक राज्य बनने के बाद से तेलंगाना से आने वाली बसों को आंध्रप्रदेश में प्रवेश करने के लिए दो पृथक परमिट हासिल करने होते हैं। आंध्रप्रदेश के परमिट के अलावा, तेलंगाना के मंत्रियों या आंध्र के मंत्रियों की अनुशंसा भी जरूर है। इसलिए तेलंगाना से आने वाले भक्तों की संख्या में गिरावट आई है।