`तारक मेहता’ के अय्यर ने किशोर को परिजनों से मिलाया


मुंबई। टीवी चैनल पर प्रसारित हो रहा `तारक मेहता का उल्टा चश्मा’ सीरियल अपने हर एपिसोड में एक सामाजिक संदेश देता है। कुछ ऐसा ही इसमें काम करने वाले एक कलाकार ने असल जिंदगी में किया है। सीरियल में कृष्णन अय्यर का किरदार निभाने वाले तनुज महाशब्दे ने मुंबई की गलियों में खो गए पश्चिम बंगाल के एक किशोर को उसके परिवार से मिलाने का नेक काम किया है। इस संदर्भ में महाशब्दे कहते हैं कि, `मैं और मेरा मित्र हर्ष पंचोली बोरीवली में शनिधाम के पास फालूदा खा रहे थे। तभी हमने एक लड़के को देखा। वह लगातार मुझे घूर रहा था। उसके हावभाव से मुझे लगा कि वह मानसिक रूप से कमजोर है। मैंने उसे खाने के लिए सैंडविच दिया। पंचोली ने सोचा कि उसका फोटो खींचकर व्हाटसएप पर बने ग्रुप में जारी कर दें।’ महाशब्दे के अनुसार, चित्र खींचने के लिए पंचोली के फोन निकालने पर लड़का घबराकर भागने लगा। इसी दौरान पंचोली को एक संदेश मिला, जिसमें उसी लड़के की मालवाणी इलाके से गुमशुदगी की जानकारी थी। यह अजीब संयोग था। हमने पीछा कर लड़के को पकड़ा। इसके बाद संदेश में दिए नंबर पर फोन किया। बाद में किशोर को लेकर महाशब्दे एमएचबी थाने गए और पुलिस को सौंप दिया। किशोर का नाम मजबुल मलिक है। वह कोलकाता का रहने वाला है। गत वर्ष दिसंबर में अपने अंकल के घर आया था। गत तीन जनवरी को वह सब्जी खरीदने निकला, लेकिन लौटा नहीं। पुलिस ने मजबुल के बारे में कोलकाता में उसके परिजनों को सूचित कर दिया है। उसके पिता उसे लेने के लिए वहां से चल भी चुके हैं।