टॉपर घोटाला : बच्चा राय गिरफ्तार, जगह-जगह छापे


हाजीपुर। बिहार इंटरमीडियेट परीक्षा में टॉपर्स फर्जीवाड़ा मामले के मास्टरमाइंड वैशाली जिले के विशुनदेव राय इंटरमीडियेट कॉलेज कीरतपुर के प्राचार्य अमित कुमार उर्फ बच्चा राय ने आज पुलिस के समक्ष आत्मसमर्पण कर दिया । वैशाली के पुलिस अधीक्षक राकेश कुमार ने यहां बताया कि टॉपर्स फर्जीवाड़ा का मास्टरमाइंड बच्चा राय ने जिले के भगवानपुर थाना क्षेत्र स्थित अपने विशुनदेव राय इंटर कॉलेज कीरतपुर में पुलिस के समक्ष आत्मसमर्पण कर दिया । उन्होंने बताया कि बच्चा ने आत्मसमर्पण करने की सूचना आज पुलिस को दे रखी थी और इसी को देखते हुए कॉलेज परिसर में कई थानों की पुलिस मौजूद थी । श्री कुमार ने बताया कि बच्चा की गिरफ्तारी के बाद इसकी सूचना विशेष जांच दल (एसआईटी) को दे दी गयी है। एसआईटी जल्द ही बच्चा को गिरफ्त में लेकर पूछताछ करेगी । बच्चा की तलाश में एसआईटी और वैशाली पुलिस आज सुबह ही उसके हाजीपुर स्थित आवास और कीरतपुर कॉलेज के इलाके में गयी थी । एसआईटी ने बच्चा के घर दो दिन पूर्व की छापेमारी के दौरान बड़ी संख्या में इंटरमीडियेट की उत्तर पुस्तिका , प्रवेश पत्र, अंक पत्र समेत परीक्षा से जुड़े दस्तावेजों को जब्त किया था । एसआईटी के पास बच्चा के खिलाफ फर्जीवाड़े के पुख्ता प्रमाण हैं और एसआईटी ने कल ही बच्चा की गिरफ्तारी को लेकर वारंट जारी करने के लिए न्यायालय में अर्जी दी थी । बच्चा राय के विशुनदेव राय इंटर कॉलेज कीरतपुर से ही इस बार विज्ञान संकाय के टॉपर सौरभ श्रेष्ठ,विज्ञान संकाय से ही तीसरे टॉपर राहुल कुमार और कला संकाय की टॉपर रुबी राय बनी थी । इन छात्रों के अलावा कई अन्य छात्र भी इसी कॉलेज से अव्वल नम्बरों से उत्तीर्ण हुये थे ।