जेटली नहीं चाहते वापस आए कालाधन : जेठमलानी


नईदिल्ली । सुप्रीम कोर्ट की ओर से कालेधन को लेकर गठित एसआईटी के साथ की गई सख्ती के बीच वरिष्ठ वकील राम जेठमलानी ने भी प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के करीबी और सरकार के वित्त मंत्री अरुण जेटली पर दमदार हमले किए। उन्होंने कहा कि ऐसा नहीं लगता कि वित्तमंत्री काला धन लाने को लेकर गंभीर हैं। उन्होंने कहा कि मैं जर्मनी भी गया था। वहां मुझे जानकारी मिली कि सरकार कालाधन लाने को लेकर किसी भी तरह का प्रयास नहीं कर रही है।
इससे पहले, कालेधन पर वेंâद्र द्वारा गठित एसआईटी को सुप्रीम कोर्ट ने आदेश दिया है कि वह अपनी रिपोर्ट १२ मई को ही पेश करे। सुप्रीम कोर्ट के निर्देश के बावजूद एसआईटी ने अभी तक रिपोर्ट दाखिल नहीं किया है। एसआईटी की ओर से मंगलवार को पेश होकर सोली सोराब जी ने और एक महीने की मोहलत मांगी जिसे कोर्ट ने इंकार कर दिया, हालांकि उन्हें १२ मई तक की मोहलत दे दी गई। मोदी सरकार ने शासन में आने के बाद सबसे पहला पैâसला कालेधन को लेकर एसआईटी के गठन का किया था।