जेएनयू ने कन्हैया समेत ८ छात्रों को किया बहाल


-क्लीन चिट नहीं मिलने के बाद भी शैक्षणिक गतिविधियों में ले सवेंâगे भाग
– सेना विरुद्ध टिप्पणीं पर फिरोजाबाद में कन्हैया के खिलाफ वाद दायर
नईदिल्ली। जेएनयू विवाद में पंâसे छात्र संघ अध्यक्ष कन्हैया कुमार समेत ८ छात्रों के निलंबन को विश्वविद्यालय ने शुक्रवार को वापस ले लिया । अब सभी छात्र शैक्षणिक गतिविधियों में भाग ले सवेंâगे। हालांकि इन्हें अभी भी क्लीन चिट नहीं दी गई है। विश्वविद्यालय ने यह पैâसला जांच रिपोर्ट आने के बाद लिया। इस बीच, कन्हैया ने विश्वविद्यालय के उप कुलपति से मुलाकात की। हालांकि, कुलपति सोमवार को जांच रिपोर्ट देखेंगे। वैंâपस में संसद हमले के दोषी अफजल गुरु को लेकर हुए कार्यक्रम के दौरान कथित रूप से देश के विरोध में नारेबाजी हुई थी। मामले में कन्हैया समेत ८ छात्रों को गिरफ्तार किया गया था। वहीं कन्हैया द्वारा सेना के खिलाफ टिप्पणी करने पर कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने इलाहाबाद में प्रदर्शन किया। सेना के खिलाफ दिए बयान को लेकर फिरोजाबाद में कन्हैया के खिलाफ वाद दायर किया गया है। उधर जेएनयू विवाद में बॉलिवुड अभिनेता अनुपम खेर भी वूâद पड़े हैं। उन्होंने कहा कि विवि वैंâपस पर बनी उनकी फिल्म ‘बुद्धा इन ए ट्रैफिक जाम’ जेएनयू में क्यों नहीं दिखाई जा रही है। फिल्म में जेएनयू जैसे वैंâपस की िंजदगी दिखाने की कोशिश की गई है। उन्होंने सवाल उठाया कि जेएनयू में जो अभिव्यक्ति की आजादी थी वह अब कहां गई। संसद पर हमले के दोषी अफजल गुरु की वकील नंदिता हक्सर का कहना है कि संविधान में देशद्रोह का कानून ढुलमुल तरीके से परिभाषित किया गया है।