जाकिर नाइक की मुश्किलें बढ़ी, जांच का आदेश


नई दिल्ली।  केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने शुक्रवार को कहा कि सरकार विवादित भारतीय मुस्लिम धर्म प्रचारक जाकिर नाईक के भाषणों की जांच कर रही है और इस मामले में उचित कार्रवाई की जाएगी। विवादित धर्म प्रचारक नाईक हाल में तब सुर्खियों में आए जब उन्होंने खुलासा किया कि एक जुलाई को बांग्लादेश की राजधानी ढाका में एक चर्चित कैफे पर हमला कर एक भारतीय सहित 20 बंधकों को मौत के घाट उतारने वाले पांच आतंकवादियों में से दो उनके भाषणों से प्रेरित थे।  राजनाथ ने यहां संवाददाताओं को बताया, “हमने जाकिर नाईक के बयानों पर संज्ञान लिया है और इस संबंध में जरूरी दिशा-निर्देश दे दिए गए हैं। उनके भाषणों/सीडी की जांच की जा रही है और जो कुछ सही होगा किया जाएगा।” उन्होंने कहा, “जहां तक भारत सरकार का संबंध है, तो हम किसी कीमत पर आतंकवाद से समझौता नहीं करेंगे।” नाईक मुंबई के इस्लामिक रिसर्च फाउंडेशन के संस्थापक हैं। दूसरे धर्मो के प्रति नफरत की आग भड़काने वाले उनके बयानों के चलते यह संस्था ब्रिटेन व कनाडा में प्रतिबंधित है।