चीन ने फिर की लद्दाख से घुसपैठ की कोशिश


नई दिल्ली। भारत की तमाम कोशिशों के बावजूद चीन घुसपैठ करने से बाज नहीं आ रहा है। पिछले महीने चीनी सैनिकों ने लद्दाख से लगी लाइन ऑफ एक्चुअल वंâट्रोल़(एलएसी)से दो बार भारतीय सीमा में घुसपैठ का प्रयास किया। भारतीय जवानों की चौकसी के चलते वे अपने मंसूबों में सफल नहीं हो सके।
एक भारतीय अधिकारी द्वारा दी गई जानकारी के मुताबिक चीनी सैनिक गश्त के दौरान ओल्ड पेट्रोल प्वांइट तक आ पहुंचे थे। ये सभी जवान पीपल्स लिबरेशन आर्मी के थे। इस दौरान दोनों देशों के जवान आमने– सामने थे। लेकिन भारतीय सैनिकों ने चीनी भाषा में लिखे बैनर दिखाते हुए उन्हें वापस लौटने की चेतावनी दी जिसके फलस्वरूप चीनी सैनिक वापस लौट गए। ओल्ड पेट्रोल प्वाइंट भारतीय सीमा की अंतिम चौकी है।
यह घटना २० और २८ मार्च को हुई है। इससे पहले भी चीन भारतीय सीमा पर घुसपैठ करता रहा है। यही नहीं चीन भारत द्वारा सीमा रेखा पर सड़क निर्माण और विकास के कार्यों का विरोध करता आया है। हालांकि मोदी सरकार ने चीन की सरकार को दो टूक शब्दों में कह दिया कि वह एलएसी का सम्मान करे अन्यथा दोनों देशों के बीच संबंध सामान्य नहीं हो सकते। चीन भारत के अरुणाचल प्रदेश के ९० हजार किमी क्षेत्र पर दावा करता आ रहा है। यही नहीं जम्मू-कश्मीर से लगी सीमा पर ३८ हजार किमी क्षेत्र पर भी वह अपना हक जताता रहता है।