गतिरोध दूर करने राम माधव करेंगे महबूबा से बात


-जम्मू-कश्मीर सरकार गठन का मामला…
नई दिल्ली। मुफ्ती मोहम्मद सईद के निधन के बाद जम्मू कश्मीर में सरकार के गठन को लेकर गतिरोध जारी है, ऐसे में खबर आ रही है कि भाजपा महासचिव राम माधव अगले सप्ताह पीडीपी प्रमुख महबूबा मुफ्ती से बात कर सकते हैं। सूत्रों से मिल रही जानकारी अनुसार सईद के निधन के बाद ४० दिनों के शोक की अवधि अगले सप्ताह समाप्त हो रही है और इसके बाद माधव महबूबा मुफ्ती से मुलाकात कर सकते हैं। गौरतलब है कि राम माधव ने इससे पहले भी पीडीपी के साथ गठबंधन में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी। पीडीपी चाहती है कि वेंâद्र सरकार कश्मीर वेंâद्रित राजनीतिक एजेंडे पर कुछ छूट दे जिसमें सशस्त्र बल विशेषाधिकार अधिनियम में छूट शामिल है जिसे पूर्व में भाजपा खारिज कर चुकी है। पीडीपी वेंâद्र से राज्य के लिए और वित्तीय सहायता पर जोर दे रही है। क्षेत्रीय पार्टी को आशंका है कि भाजपा के साथ उसके गठबंधन से उसके जन समर्थन पर कुछ प्रभाव पड़ा है और वह अपने खोये आधार को अपने कोर एजेंडे को आगे बढ़ाकर हासिल कर सकती है। फिलहाल महबूबा मुफ्ती सरकार बनाने या नहीं बनाने के संबंध में कुछ भी कहने को तैयार नहीं हैं, जिसे लेकर जम्मू-कश्मीर के अन्य नेता उन पर लगातार बयान दे रहे हैं।