कोलकाता: फ्लाईओवर हादसे में 25 की मौत, पीएम की ममता से बात


नई दिल्ली । कोलकाता में एक निर्माणाधीन फ्लाईओवर गिरने की घटना के बाद पैदा स्थिति के बारे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी से बात की। इस घटना में अब तक 25 लोगों की मौत हुई है, जबकि 80 से ज्यादा लोग घायल हुए हैं। पीएम मोदी अभी वाशिंगटन में हैं। एक आधिकारिक विज्ञप्ति के अनुसार मोदी ने इस हादसे पर दुख जताया और केंद्र की ओर से राज्य सरकार को सभी तरह की मदद का आश्वासन दिया।

एनडीआरएफ़ और सेना की टीमें मलबे से लोगों को निकालने में लगी हुई हैं और पुलिस का कहना है कि राहत और बचाव का काम शुक्रवार दिन भर चल सकता है। अब भी एक लॉरी पुल के मलबे के नीचे फंसी है जिसमें कई लोगों के फंसे होने की आशंका है।

ये निर्माणाधीन फ़्लाई ओवर उत्तरी कोलकाता में गणेश टॉकिज़ के पास स्थित था। आसपास के आम लोग मदद और बचाव के कामों में लगे हुए हैं और मलबे के नीचे दबे लोगों को निकालने की कोशिश कर रहे हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हादसे पर दुख जताया है, उन्होंने कहा है कि उनकी संवेदनाएं हादसे में मारे गए लोगों के परिवारों के साथ हैं।

पुल हादसे को कंपनी ने कहा, ‘भगवान की लीला’

फ्लाईओवर हादसे के बाद निर्माता कंपनी के अधिकारी केपी राव ने हादसे को ऐक्ट ऑफ गॉड (भगवान की लीला) कहकर पल्ल झाड़ लिया है। राव ने कहा, ऐसा हमारे साथ पिछले 27 सालों में नहीं हुआ। फ्लाईओवर को इंफ्रास्ट्रक्चर कंपनी आईवीआरसीएल बना रही है। कंपनी के अधिकारी कहना है कि फ्लाईओवर का 70 फीसदी काम पूरा कर लिया गया था। हर एक चीज को चेक करके काम किया जा रहा था। उन्होंने कहा कि हादसे वे लोग खुद स्तब्ध हैं। पुलिस ने हादसे के बाद फ्लाईओवर के निर्माण कार्य में लगी कंपनी पर के खिलाफ एफआईआर दर्ज की है।