सोम ने दिया 15 दिन का अल्टीमेटम : कहा-पलायन करने वालों को वापस नहीं लाया गया तो हमें सड़क पर उतरने से कोई नहीं रोक सकता


लखनऊ । समाजवादी पार्टी नेता शिवपाल यादव ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और निर्भय यात्रा निकालने वाले संगीत सोम पर हमला करते हुए कहा कि गुजरात दंगों के बाद कई लोग पलायन कर गए. संगीत सोम और मोदी जी पहले उनकी चिंता करें। कैराना में किसी ने पलायन नहीं किया है। कैराना छोड़कर जो भी गया है, वह व्यावसायिक कारणों से गया है। हम राज्य में भाजपा को माहौल खराब नहीं करने देंगे।
कैराना पलायन मामले पर राजनीति गरमा गई है। आज भाजपा विधायक संगीत सोम ने सैकड़ों समर्थकों के साथ सरधना स्थित अपने घर से ही निर्भय यात्रा शुरू की जिसे प्रसाशन ने थोड़ी दूर पर रोक दिया। यात्रा रोके जाने पर सोम ने पत्रकारों से बात करते हुए कहा, अधिकारियों ने हमसे कहा कि इससे आगे निषेधाज्ञा लागू की गयी है और अगर हम आगे बढ़ते हैं तो क़ानून व्यवस्था की समस्या हो जाएगी। हम भाजपा के कार्यकर्ता हैं और क़ानून तोडऩा नहीं चाहते. लेकिन, अगर 15 दिनों के अंदर उन लोगों को नहीं वापस लाया गया जिन्हें जबरन घर छोडऩे के लिए मजबूर किया गया तो तो हमें एक बार फिर सड़कों पर उतरने उतरने से कोई रोक नही सकता। सोम की यात्रा को लेकर पश्चिमी उत्तर प्रदेश के मेरठ और शामली जि़लों मे प्रशासन ने निषेधाज्ञा पहले ही लागू कर दी थी और शामली की सीमाओं को भी सील कर दिया था।
प्रशासन का कहना है कि यात्रा से माहौल खऱाब होने की आशंका के मद्देनजऱ संगीत सोम से यात्रा को स्थगित करने का अनुरोध भी किया गया था। समाजवादी पार्टी के नेता अतुल प्रधान ने भी शुक्रवार को ही सदभावना यात्रा निकालने की घोषणा की थी। मगर प्रशासन ने उन्हें भी अनुमति नही दी। कैराना से हिंदुओं के पलायन का मुद्दा उठाने भारतीय जनता पार्टी के सांसद हुकुम सिंह ने भी संगीत सोम की इस 40 किलोमीटर लंबी यात्रा पर आपत्ति जतायी है। उनका भी मानना है कि इस तरह की यात्रा से इलाके का माहौल खराब हो सकता है।