केजरीवाल की पत्नी सुनीता ने छोड़ी नौकरी


नई दिल्ली। दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल की पत्नी सुनीता केजरीवाल ने स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति यानी वीआरएस ले लिया है। सुनीता केजरीवाल 15 जुलाई 2016 से अपने पद से मुक्त हो जाएंगी। गौरतलब है कि 1993 बैच की आईआरएस अफसर सुनीता केजरीवाल इनकम टैक्स विभाग में कमिश्नर के पद पर तैनात थीं। पिछले 22 साल से बतौर अधिकारी आयकर विभाग में काम कर रहीं सुनीता के वीआरएस को लेकर कई कयास लगाए जा रहे हैं। हो सकता है वह आम आदमी पार्टी जॉइन कर लें। अगर आम आदमी पार्टी पंजाब चुनाव में अच्छा प्रदर्शन करती है, तो सुनीता को किसी पार्टी में अहम जिम्मेदारी दिए जाने की संभावना भी जताई जा रही है। उधर यह भी माना जा रहा है केजरीवाल और मोदी सरकार के बढ़ते विवादों को लेकर उन्होंने इस्तीफा दिया है, ताकि केंद्र की सेवा में होने के कारण उन्हें निशाना न बनाया जा सके। गौरतलब है कि इससे पहले भी वे लंबी छुट्टी पर रह चुकी हैं।

पत्नी को दिया था जीत का क्रेडिट

गौरतलब है कि चुनाव जीतने के बाद सार्वजनिक तौर पर पत्नी को इसका क्रेडिट दिया था। उन्होंने सबके सामने पत्नी को गले लगाया था। आपको बता दें कि नेशनल एकेडमी ऑफ एडमिनिस्ट्रेशन, नागपुर में ही प्रशिक्षण के दौरान अरविंद और सुनीता की मुलाकात हुई जो आगे चलकर रिश्ते में बदली। अरविंद केजरीवाल भी आईआरएस अफसर रह चुके हैं।