कीनन-रुबेन हत्याकांड : चार आरोपियों को उम्रकैद


मुंबई. 2011 में कीनन सांटोस और रुबेन फर्नांडिस की हत्या के आरोप में मुंबई की एक अदालत ने 4 आरोपियों को दोषी करार देते हुए उम्रकैद की सजा सुनाई है. अदालत ने चारो को हत्या का दोषी माना है और उन्हें जीवनपर्यंत कारावास की सजा दी है. कोर्ट ने माना कि छेड़छाड़ का विरोध करने पर दोनों की हत्या कर दी गयी थी. कोर्ट में चारों आरोपी जितेंद्र, सुनील, सतीश और दीपक को दोषी माना है.

उल्लेखनीय है कि कीनन और रुबेन दोनों के परिवार वालों ने कोर्ट से गुजारिश की थी कि दोषियों को मौत की सजा ना दी जाए, बल्कि उम्रकैद की सजा दी जाए. परिवारों का कहना था कि इस सभी लोगो को पता चलना चाहिए कि जवान बेटा या बेटी खोती है उन पर क्या बीतती है.

गौरतलब है कि 20 अक्तूबर 2011 की रात को मुंबई के अंबोली इलाके में कीनन सांटोस और रूबेन फर्नांडिज ने जब अपनी महिला मित्रों के साथ कुछ लोगों की बदतमीजी का विरोध करने की हिम्मत दिखाई तो उन पर हमला किया गया. दोनों मारपीट में बुरी तरह से जख्मी हो गये थे और बाद में इलाज के दौरान उन दोनों की मौत हो गयी थी.