किसी को बख्शा नहीं जाएगा : पर्रिकर


नई दिल्‍ली। अगुस्ता वेस्टलैंड के मुद्दे पर रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर ने कहा कि किसी भी दोषी को बख्शा नहीं जाएगा। सरकार दोषियों के खिलाफ कार्रवाई करने में नहीं हिचकेगी, क्योंकि कोई भी कानून से ऊपर नहीं है। पर्रिकर ने शनिवार को कहा कि मुझे कोई कारण नजर नहीं आता कि किसी के साथ अलग बर्ताव किया जाए, बशर्ते कि आपके पास उपयुक्त कानूनी सबूत हो। रक्षा मंत्री ने लोकसभा में अपने बयान, जिसमें उन्होंने इस मामले का हश्र बोफोर्स जैसा नहीं होने की उम्मीद जताई थी, का हवाला देते हुए कहा, हममें इरादा और गंभीरता है। मैं सुनिश्चित करूंगा कि उपयुक्त कोशिश हो। पर्रिकर ने कहा था कि पूर्व वायुसेना प्रमुख एसपी त्यागी और गौतम खेतान बहुत छोटे लोग हैं जिन्होंने भ्रष्टाचार की बहती गंगा में हाथ धो लिए। सरकार पता लगाएगी कि यह नदी जा कहां रही है। प्रसाद ने एंटनी पर साधा निशाना : अगुस्ता वेस्टलैंड सौदे पर भाजपा ने शनिवार को पूर्व केंद्रीय मंत्री एके एंटनी पर हमला बोला। केंद्रीय मंत्री रविंशकर ने कहा कि वर्ष 2010 में जब इस विदेशी कंपनी को अनुबंध मिला था तब उनके पास रक्षा मंत्रालय था। एंटनी को बताना चाहिए कि वायुसेना को वीवीआईपी हेलीकॉप्टर प्रदान करने के इस विवादास्पद सौदे के लिए कौन मुख्य भूमिका में था। कौन उनका हाथ पकड़े हुए था। एसपी त्यागी वर्ष 2007 में वायुसेना प्रमुख के रूप में सेवानिवृत्त हुए। अनुबंध 2010 में दिया गया। एंटनी को बताना चाहिए कि इस अनुबंध के पीछे कौन था।