किरण बेदी भाजपा में


दिल्ली को समर्पित कंरूगी 40 साल का अनुभव : किरण बेदी
नईदिल्ली । देश की पहली महिला आईपीएस अधिकारी किरण बेदी ने गुरूवार को भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की सदस्यता ग्रहण कर ली है। बेदी ने भाजपा के टोल फ्री-नंबर पर फोन कर पार्टी सदस्यता ली, जिसके बाद इसका औपचारिक एलान किया गया। किरण बेदी पार्टी अध्यक्ष अमित शाह के घर से उनके साथ ही कार में भाजपा मुख्यालय पहुंचीं और वहां प्रेस कॉन्फ्रेंस में शाह ने पुष्पगुच्छ देकर उनका स्वागत किया है। भाजपा के पार्टी अध्यक्ष अमित शाह और केंद्रीय वित्तमंत्री अरुण जेटली की उपस्थिति में पार्टी मुख्यालय में बेदी ने भाजपा की सदस्यता ली।
अन्ना आंदोलन में बड़ी भूमिका निभा चुकीं बेदी दिल्ली विधानसभा चुनावों के अंतिम दौर पर भाजपा में शामिल हुई। उम्मीद है कि बेदी को नई दिल्ली विधानसभा क्षेत्र से आप प्रमुख अरंिवद केजरीवाल के खिलाफ चुनाव में उतारा जा सकता है। इस अवसर पर दिल्ली भाजपा के अध्यक्ष सतीश उपाध्याय, पार्टी प्रभारी प्रभात झा, केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन और वरिष्ठ नेता विजय गोयल आदि नेता मौजूद थे।
० मुझे काम करना आता है और कराना भी – किरण
किरण बेदी ने सदस्यता लेने के बाद कहा कि बेदी ने कहा, Óमेरे पास ४० साल का प्रशासनिक अनुभव है और मैं अपना अनुभव दिल्ली को भेंट करने आई हूं। उन्होंने कहा कि मुझे काम करना आता है और काम करवाना भी आता है। हालांकि उनके बात करने का अंदाज कुछ ऐसा था मानो जैसे उन्हें दिल्ली सीएम पद मिलने की शर्त पर ही भाजपा का दामन थामा हो। ४० साल का प्रशासनिक अनुभव के साथ भाजपा सदस्यता लेने के बाद किरण बेदी ने कहा कि मैंने अपने पुलिस देश को सर्मित किया है। उन्होंने कहा कि मेरे अंदर एक जुझारू महिला की छवि है। काफी लंबे समय से एनजीओ चला रहीं किरण बेदी ने अन्ना आंदोलन के जरिए अलग लोकप्रियता हासिल की थी। जब अरंिवद केजरीवाल ने अन्ना से अलग होकर राजनीतिक राह पकड़ी थी, तब वह अन्ना के साथ ही रही थीं।
० आखिर में ये क्या बोले शाह
भाजपा की सरकार बनी तो क्या किरण बेदी दिल्ली की सीएम होंगी? पत्रकारों के इस सवाल पर भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने कहा कि इसका फैसला संसदीय बोर्ड करता है। उन्होंने पत्रकारों से यहां तक कह दिया कि इस समय आपको इससे ज्यादा कुछ सुनने को नहीं मिलेगा और आप अगली खबर की ओर चले जाएं।