कार्टून विवाद : भाजपा पहुंची आयोग, ‘आप’ भी तिलमिलाई


भाजपा और आप ने की एक-दूसरे की शिकायत
नईदिल्ली। दिल्ली चुनावी दंगल में ‘कार्टून वार’ पर गरमा-गरमी बढ़ गई है। एक तरफ जहां विज्ञापन में कथित तौर गोत्र का लेकर की गई टिप्पणी पर ‘आप’ चुनाव आयोग जा रही है वहीं बीजेपी ने अपना पक्ष साफ है। भाजपा ने साफ कहा कि इस विज्ञापन में कोई जातिवादी टिप्पणी नहीं की गई है। पार्टी की ओर से आरोप लगाया गया है कि केजरीवाल जानबूझकर इसे जातिवादी रंग दे रहे हैं। यही नहीं भाजपा चुनाव आयोग पहुंच गई है। वहां केजरीवाल और उनकी पार्टी पर जबरन जातिवादी टिप्पणी करने का आरोप लगाते हुए शिकायत की गई है। ‘आप’ ने भी शिकायत करने का पैâसला किया है। ऐसे में विज्ञापन मामले में अब पूरी तरह तूल पकड़ लिया है।
उल्लेखनीय है कि भाजपा ने सोमवार को अरिंवद केजरीवाल के खिलाफ एक विज्ञापन जारी किया, जिसमें उनका गोत्र ‘उपद्रवी’ बताया गया है। इससे पहले पूर्व मुख्यमंत्री को उनके बच्चों की कसम खाते हुए दिखाया गया था और फिर एक अन्य विज्ञापन में केजरीवाल के कार्टून के साथ वीआईपी पास मांगने की जिक्र किया है। कार्टून विज्ञापन के पहले अंक में केजरीवाल के साथ अन्ना की तस्वीर भी थी। अन्ना की तस्वीर पर माला पहनाने को लेकर पहले ही बवाल हो चुका है। इससे पहले आम आदमी पार्टी की ओर से ‘पोस्टर वार’ शुरू किया था। जिसपर भाजपा की ओर से कड़ी आपत्ति जताई थी। यहां तक कि चुनाव आयोग से भी इसकी शिकायत की गई थी। दिल्ली विधानसभा चुनाव में भाजपा का सीधा मुकाबला आम आदमी पार्टी से है, तमाम सर्वे इस ओर इशारा कर चुके हैं।
० आप का आरोप, जातिगत हमले पर उतरी
ताजा विज्ञापन को लेकर केजरीवाल ने कहा कि भाजपा अब जातिगत हमले पर उतर आई है। भाजपा पूरे अग्रवाल समाज से मा़फी मांगे। हम चुनाव आयोग से भी इसकी शिकायत करेंगे। दिल्ली के लोग ऐसी गाली-गलोज की राजनीति पसंद नहीं करते। वोिंटग वाले दिन लोग इसका जवाब देंगे। आम आदमी पार्टी के नेता आशुतोष ने भाजपा के पोस्टर पर नाराजगी जाहिर करते हुए इसके लिए माफी की मांग की है। आशुतोष ने कहा कि भाजपा अगले २ घंटे में इस विज्ञापन को हटाए और माफी मांगे। अगर ऐसा नहीं होता है, तो हम इसकी शिकायत चुनाव आयोग से करेंगे। भाजपा अब बहुत नीचे स्तर पर गिर गई है और केजरीवाल की जाति पर प्रहार कर रही है।