कश्मीर हिंसा ; श्रीनगर में 11 जगहों पर कर्फ्यू, वापस घर लौट रहे अमरनाथ यात्री


श्रीनगर हिजबुल मुजाहिदीन के कमांडर बुरहान वानी के मारे जाने के बाद कश्मीर घाटी में पैदा हुई तनावपूर्ण स्थिति अभी भी बनी हुई है. भड़की हिंसा में मरने वालों की संख्या 23 हो गई है, जबकि 300 से ज्यादा घायल हैं.  तनाव के बाद श्रीनगर में 11 जगहों पर कर्फ्यू है. 1200 अतिरिक्त अर्धसैनिक बलों की तैनाती की गई है.

घर लौट रहे यात्री
इस बीच अमरनाथ यात्रा पर गए तीर्थयात्रियों ने वापस अपने घर लौटना शुरू कर दिया है. राज्य सरकार ने फैसला लिया है कि अमरनाथ यात्री जम्मू से बालटाल और पहलगाम नहीं जा सकेंगे. कड़ी सुरक्षा के बीच बालटाल और अन्य स्थानों पर फंसे हुए अमरनाथ यात्रियों को जम्मू क्षेत्र में स्थानांतरित कर दिया गया है.

जम्मू में 8-10 हजार यात्री फंसे
जम्मू के IG दानेश राना ने कहा, ‘हम जम्मू से बालटाल और पहलगाम मार्गों के लिए अमरनाथ यात्रा की अनुमति देकर जोखिम नहीं ले सकते.’ उन्होंने कहा कि जैसे ही घाटी में हालात सुधरेंगे हम यात्रा को जम्मू बेस कैंप से शुरू करने की अनुमति देंगे. उन्होंने कहा कि 8 से 10 हजार अमरनाथ तीर्थयात्री जम्मू में ही फंसे हुए हैं.