एनआईए टीम दौरे को लेकर भारत ने जताया पाक पर भरोसा


-पाक की जेआईटी के भारत दौरे से पूर्व बनी परस्पर सहमति का पाक करेगा सम्मान
नईदिल्ली। पठानकोट हमले में राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए ) के पाकिस्तान जाने की अनुमति पर चल रहे अटकलों को दरकिनार करते हुए मोदी सरकार ने कहा है कि उसे पड़ोसी देश पर पूरा भरोसा है कि वह पाक संयुक्त जांच दल(जेआईटी) के भारत आने से पहले बनी परस्पर सहमति का सम्मान करेगा।गृह मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, कि एनआईए टीम के पाकिस्तान जाने का मुद्दा ऐसा नहीं है कि इसके लिए पाकिस्तान पर दवाब बनाया गया है। यह हमारा पाकिस्तान पर किया गया कोई अहसान हीं है और न ही उनका हम पर किया गया अहसान। यह आदान-प्रदान का सिद्धांत है, जिस पर दोनों पक्ष सहमत हुए थे कि वे दोनों अपने अपने जांच दल को एक दूसरे के देश में भेजेंगे। उन्होंने बताया कि सबसे पहले इसके बारे में पाकिस्तान ने आग्रह किया था। वे अपने जांच दल को भारत भेजना चाहते थे। पहले सहमति बनी थी कि उनका जांच दल कुछ शर्तों के साथ भारत आएगा, लेकिन बाद में निर्णय लिया गया कि इस हमले की छाप जब दोनों तरफ है तो फिर भारतीय जांच दल भी पाकिस्तान जाए और फिर आदान-प्रदान पर सहमति बनी।