उना घटना : सीआईडी जांच का आदेश


मुख्यमंत्री आनंदीबेन पटेल ने दलित समुदाय के सदस्यों की कथित पिटाई की घटना की सीआईडी जांच का आदेश दिया। साथ ही, उन्होंने मामले की त्वरित सुनवाई के लिए एक विशेष अदालत गठित किए जाने की भी घोषणा की। मुख्यमंत्री के आदेशों का जिक्र करते हुए एक आधिकारिक आदेश में कहा गया है, ”उना दलित पिटाई मामले को सीआईडी (अपराध) को सौंप दिया गया है। मामले की त्वरित सुनवाई के लिए एक विशेष अदालत का भी गठन किया जाएगा।” पटेल ने इस घटना को दुर्भाग्यपूर्ण बताते हुए एक विशेष सरकारी वकील नियुक्त किए जाने का भी आदेश दिया जिन्हें 60 दिनों के अंदर आरोपपत्र दाखिल करना होगा। इसके अलावा पटेल ने घोषणा की कि राज्य सरकार इस घटना में घायल दलित युवकों का सारा चिकित्सा खर्च उठाएगी। इन लोगों का उना, जूनागढ़ और राजकोट के विभिन्न सरकारी अस्‍पतालों में इलाज चल रहा है। इसके अलावा राज्य सरकार ने पीड़ितों को मुआवजे के तौर पर एक-एक लाख रुपये देने की भी घोषणा की है।