उना : केजरीवाल ने कहा-आंदोलन करो, आत्महत्या नहीं


अहमदाबाद। उना के समढियाल में पीडि़त दलितों से मुलाकात करने दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल आज शुक्रवार को राजकोट पहुंचे। केजरीवाल ने पीडि़तों का हालचाल पूछा। पीडि़तों ने केजरीवाल को घटना की वीडियो दिखाई। वीडियो से पूरी घटना सामने आयी। केजरीवाल ने कहा कि दलितों को अन्याय के खिलाफ आंदोलन करना चाहिए, आत्महत्या नहीं। राजकोट से केजरीवाल उना के समढिया गांव पीडि़तों से मिलने के लिए रवाना हो गए।

राजुला को याद कर सरकार पर किया प्रहार
राजकोट में पीडि़त दलितों से मिलने आए अरविंद केजरीवाल ने सरकार पर प्रहार करते हुए कहा कि पुलिस क्यों चुप है? पुलिस सरकार के इशारे पर काम कर रही है। राजु़ला में भी ऐसा ही हुआ था। गुजरात में दलितों पर अत्याचार करने वालों पर कार्रवाई नहीं होती। केजरीवाल ने कहा कि इसमें सरकार की मिलीभगत है। पाटीदारों का आंदोलन भी शांतिपूर्ण चल रहा था लेकिन फर्जी केस किए गए। अब दलितों पर ऐसा ही किया जा रहा है। केजरीवाल ने पीडि़तों को सरकारी नौकरी देने की मांग की है।

वीडियो देख व्यथित हुए
केजरीवाल सिविल होस्पिटल में उना के समढियाण गांव के पीडित दलितों के शरीर पर मार के निशान और वीडियो देखकर व्यथित हो गए। केजरीवाल ने दलितों पर हुए अत्याचार को निंदनीय बताया।