उत्तर-पूर्वी भारत हिला भूकम्प से


मणिपुर, असम समेत कई राज्यों में भूवंâप के झटके, छह लोगों की मौत, १०० से ज्यादा घायल
शिलांग । शिलांग उत्तर-पूर्वी भारत के मणिपुर तथा बांग्लादेश, म्यांमार और भूटान के कुछ भागों में सोमवार तड़के भूकम्प के तेज झटके महसूस किए गए। भूवंâप से करीब छह लोगों की मौत हो गई और १०० से ज्यादा लोग घायल हो गए। मणिपुर की राजधानी इंफाल में बड़े स्तर पर नुकसान बताया जा रहा है, कुछ इमारतें जहां गिर गई हैं वहीं अनेक घरों की दीवारें गिरी देखी गई हैं और शहर के कई घरों की दीवारों में दरार आ गई है, जिससे उनके गिरने का खतरा बना हुआ है।
स्थानीय मीडिया से मिल रही जानकारी के अनुसार आज तड़के चार बजकर ३५ मिनट पर आए भूकम्प की तीव्रता रिएक्टर पैमाने पर ६.७ मापी गई है और इसका केन्द्र मणिपुर के तामेंगलोंग जिला हैं। जिसमें छह लोगों की मौत हो गई है और १०० से ज्यादा घायल हो गए हैं। घायलों को अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती कराया गया हैं। भूवंâप के झटके असम, पाqश्चम बंगाल, अरुणाचल, बिहार, झारखंड सहित कई इलाको में झटके महसूस किए गए। भूवंâप का वेंâद्र इंफाल से ३३ किमी दूर और गहराई १७.० किमी नीचे मापी गई। भारत-म्यांमार सीमा पर भूवंâप की तीव्रता रिक्टर पैमाने पर ६.७ मापी गई इसके बाद पूरे इंफाल की बिजली काट दी गई है।
असम से एनडीआरएफ की दो टीमों को इंफाल के लिए रवाना किया गया है जबकि १२ टीमों को अलग-अलग जगहों पर अलर्ट पर रखा गया है। इंफाल में ज्यादा नुकसान की खबर है। भूवंâप से राजधानी इंफाल में कई मकान क्षतिग्रस्त हो गए और कई स्थानों पर खंभे उखड़ गये हैं। कुछ मकानों में दरारें आ गई हैं। भूवंâप के झटके महसूस होते ही लोग अपने घरों से बाहर निकल आए और गली तथा सड़कों पर इकट्टा हो गए। इंफाल के अस्पतालों में मरीजों को सुरक्षित स्थान पर ले जाया गया है। खबरों के मुताबिक भूवंâप के कारण बिजली आर्पूित और मोबाइल सेवा ठप हो गया है। हालांकि कुछ समय के बाद मोबाइल सेवा बहाल कर दी गई।

प्रधानमंत्री ने फोन पर ली जानकारी
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने असम के मुख्यमंत्री तरुण गोगोई से बात की और ाqस्थति का जायजा लिया। उन्होंने ाqट्वटर पर इस बात की जानकारी दी। उन्होंने अरुणाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री नाबाम तुकी से भी फोन पर बात की। इसके साथ ही प्रधानमंत्री ने गृह मंत्री राजनाथ सिंह से भी बात की। मोदी ने ाqट्वटर पर लिखा- ‘राजनाथ जी से बात की। वह असम में ही हैं। ाqस्थति के बारे में उनसे चर्चा की। वह हालात पर नजर बनाए हैं और पल-पल की जानकारी ले रहे हैं।’ गृहमंत्री ने कहा कि वह सभी प्रभावित राज्यों के मुख्यमंत्रियों से बात कर रहे हैं। असम के सीएम से बात नहीं हो पाई, उन्होंने वहां के मुख्य सचिव से बात की है।