आप की जीत से पावर वंâपनियों को लगेगा झटका !


मुंबई । अगर दिल्ली में आम आदमी पार्टी (आप) जीतती है तो टाटा पावर और रिलायंस इंप्रâास्ट्रक्चर जैसी पावर डिाqस्ट्रब्यूशन वंâपनियों के शेयरों पर असर पड़ सकता है। एाqग्जट पोल के नतीजों के हिसाब से आप दिल्ली चुनाव को बहुमत के साथ जीतती दिख रही है। ऐसे में बाजार विशेषज्ञों को डर है कि बिजली के लिए साqब्सडी और पावर डिाqस्ट्रब्यूशन वंâपनियों के बही-खातों की जांच जैसी नीतियों के चलते कहीं निवेशकों की भावनाओं को झटका न लगे।
बोनांजा पोर्टफोलियो के सीनियर वाइस प्रेजिडेंट राकेश गोयल ने कहा, ‘टाटा पावर और रिलायंस इंप्रâा जैसी पावर डिाqस्ट्रब्यूशन वंâपनियों के शेयर बिकवाली के दबाव में आ सकते हैं क्योंकि एाqग्जट पोल के नतीजे इशारा कर रहे हैं कि आप दिल्ली का चुनाव बहुमत से जीत सकती है।’
आप ने चुनाव अभियान के दौरान कहा था कि सत्ता में आने पर वह प्राइवेट पावर डिाqस्ट्रब्यूशन वंâपनियों के बही-खातों के ऑडिट का ऑर्डर देगी। दिल्ली में पावर डिाqस्ट्रब्यूशन वंâपनियों के एकाधिकार का आरोप लगाते हुए पार्टी ने कहा था कि पावर सप्लायर्स के बीच और कॉाqम्पटिशन को बढ़ावा दिया जाएगा ताकि कन्जयूमर्स को फायदा हो। आप की सरकार जब दिसंबर २०१३ में ४९ दिन के लिए सत्ता में आई थी तब उसने वैâग ऑडिट का ऑर्डर जारी किया था।
कार्वी स्टॉक ब्रोिंकग के पंâड मैनेजर पी फणी शेखर ने कहा, ‘जिन पावर वंâपनियों का दिल्ली में बिजनेस है उनके शेयरों में सोमवार को गिरावट आ सकती है क्योंकि एाqग्जट पोल के नतीजे उनके हिसाब से निराशाजनक रहे हैं। इन्वेस्टर्स के लिए िंचता की बड़ी बात नई सरकार की तरफ से प्राइवेट पावर डिाqस्ट्रब्यूटर्स का ऑडिट है। हमारे हिसाब से ऑडिट में पावर डिाqस्ट्रब्यूशन वंâपनियों के खिलाफ कोई सबूत नहीं मिलेगा, लेकिन अनिश्चतता तो बनी रहेगी।’
टाटा पावर और रिलांयस इंप्रâा के शेयर फरवरी में अपने हाई से क्रमश: ९ पर्सेंट और १० पर्सेंट गिरे हैं। दोनों शेयरों ने बीएसई पावर इंडेक्स को अंडरपरफॉर्म किया है, जिसमें इस दौरान ५.७ पर्सेंट गिरावट आई थी। इन पावर वंâपनियों के शेयरों में कमजोरी का रुझान इसलिए बना क्योंकि ऑपिनियन पोल के नतीजे फरवरी की शुरुआत में आए थे।