आतंकवाद के खिलाफ ओलांद का कड़ा बयान


नई दिल्ली। पीएम मोदी और फ्रांस के राष्ट्रपति ओलांद के बीच हैदराबाद हाउस में बातचीत चल रही है। बतााया जा रहा है कि दोनों देशों के बीच कुछ अहम समझौतों पर हस्ताक्षर हो सकते हैं हालांकि राफेल डील पर सस्पेंस अभी बरकरार है। इससे पहले औपचारिक स्वागत के बाद आतंकवाद के खिलाफ ओलांद ने कड़ा बयान दिया। उन्होंने कहा कि दुनिया को दहशतगर्दों से बचाने के लिए सभी को एक साथ आने की जरूरत है। फ्रांस आतंकी संगठन आइएस के खात्मे के लिए प्रतिबद्ध हैं। उन्होंने कहा कि आतंकवाद किसी एक देश की सीमा में नहीं बंधा हुआ है। आज दुनिया के विकास में सबसे बड़ा रोड़ा आतंकी संगठन बने हुए हैं। भारत की चिंता को जायज बताया और कहा कि फ्रांस पूरी तरह से भारत के साथ है।