SVNIT : छात्रों का विरोध प्रदर्शन यथावत्


चन्नीवाला ने पदभार संभाला, भारी सुरक्षा के बीच परमार उपस्थित हुए
सूरत। इच्छानाथ स्थित सरदार वल्लभभाई पटेल नेशनल इन्स्टीट्यूट आफ टेक्नोलॉजी (एसवीएनआईटी) के यौन उत्पीडऩ मामले में डायरेक्टर पोरे का इस्तीफा मंजूर होने के बाद इंचार्ज डायरेक्टर के रूप मेंं चन्नीवाला ने पदभार संभाल लिया है। जबकि रजिस्ट्रार परमार मंगलवार को दोपहर के बाद सुरक्षा के साथ उपस्थित हुए। हालांकि रजिस्ट्रार के इस्तीफे की मांग के साथ ही विद्यार्थियों का आंदोलन यथावत जारी है।
यौन उत्पीडऩ मेंं शामिल दो प्रोफेसरों मिश्रा और राय को नौकरी से निकाल दिया गया है। नौकरी से निकाले गए दोनों प्रोफेसरोंं ने कोर्ट में याचिका दायर की थी। याचिका पर सुनवाई केदौरान एसवीएनआईटी के डायरेक्टर और रजिस्ट्रार अनुपस्थित रहे। जिससे दोनोंं प्रोफेसरोंं को कोर्ट से स्टे मिल गया है। डायरेक्टर और रजिस्ट्रार की लापरवाही सामने आने पर छात्र भड़क गए और धरना प्रदर्शन शुरु कर दिया। छात्रों के दबाव मेंं गत दिनोंं डायरेक्टर पोरे ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया था। उनके स्थान पर प्रो. चन्नीवाला को इंचार्ज डायरेक्टर का चार्ज सौंंपा गया है। जबकि रजिस्ट्रार परमार ने पुलिस सुरक्षा की मांग की थी, जिससे मंगलवार को सुबह से ही उमरा थाने का पुलिस दल एसवीएनआईटी कालेज में तैनात था। पुलिस की तैनाती एवं सुरक्षा के बीच रजिस्ट्रार परमार आफिस मेंं आए। परंतु कोई बात-चीत नहीं होने पर विद्यार्थी शांतिपूर्ण माहौल मेंं रजिस्ट्रार के आफिस के सामने धरने पर बैठक इस्तीफे की मांग करते रहे। गत दिनों विद्यार्थी अग्रणियोंं द्वारा गुजरात हाईकोर्ट मेंं नए वकील के माध्यम से केस को सम्मिट किया गया है। दोनों प्रोफेसरों के स्टे को रद्द करने के लिए दायर याचिका पर बुधवार को सुनवाई होगी। 14 अपै्रल को आंबेडकर जयंति की छुट्टïी होने के बावजूद विद्यार्थी सुबह 3 घंटे रजिस्ट्रार के आफिस के सामने इक_ïा होकर इस्तीफे की मांग करते रहे।