सूरत : उधना-लिंबायत को जोड़नेवाले रेलवे ओवर ब्रिज का लोकार्पण कल


लिंबायत-उधना को जोडने के लिए 29 करोड़ की लागत से बने रेलवे ओवर ब्रिज का लोकार्पण किया जायेगा।
Photo/Loktej

ड्रीम सीटी खजोद में 103 करोड़ की लागत से रास्ते का भूमिपूजन

सूरत। लोकसभा चुनाव की आचरसंहिता लागू होने को अब चंद दिनों का समय बचा है। महानगरपालिका द्वारा लोकोपयोगी प्रकल्पों का लोकार्पण तथा भूमिपुजन कार्यक्रम 7 मार्च को रखा गया है।

पालिका सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार विभिन्न प्रकल्पों का लोकार्पण और भूमिपुजन कार्यक्रम गुरूवार 7 मार्च 2019 को दोपहर 1.30 बजे से शुरू होगा। कतारगाम कोसाड हाऊसिंग बोर्ड के पास खुली जगह में 5 करोड़ की लागत से बने वॉक-वे का लोकार्पण किया जायेगा। 1.45 बजे प्रधानमंत्री आवास योजना अंतर्गत 45 करोड़ की लागत से उत्राण-कोसाड टीपी 27 में 760 आवास और कतारगाम टीपी 35 में 39 करोड़ की लागत से 660 आवासों का लोकार्पण किया जायेगा। 2.30 बजे कतारगाम टीपी 24 टुंकी में 1.59 करोड की लागत से कोम्युनिटी होल का लोकार्पण होगा। 2.45 बजे चोकबाजार किल्ला के मैदान के रिनोवेशन के बाद वहा पर 3.88 करोड़ की लगात से बने प्रदर्शनी होल तथा कोन्फरन्स रुम का लोकार्पण होगा। 3.30 बजे मुंबई अमदाबाद वेस्र्टन लाईन पर रेलवे गरनाला नंबर 437 पर लिंबायत-उधना को जोडने के लिए 29 करोड़ की लागत से बने रेलवे ओवर ब्रिज का लोकार्पण किया जायेगा।

पालिका द्वारा इसी स्थल पर रुपनगर के पास सार्वजनिक सभा आयोजित की गई है। लिंबायत क्षेत्र की करीबन पांच लाख आबादी को इस रेलवे ओवर ब्रिज का लाभ होगा। बरसात के मौसम में गरनाला पानी से लबालब होने से लिंबायत क्षेत्र के लोगों को काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ता है। इसके अलावा ड्रीम सीटी खजोद में 103 करोड़ की लागत से रास्ते के कामों का भूमिपूजन शाम 4 बजे किया जायेगा। उपरोक्त प्रकल्पों का लोकार्पण एवं भूमिपुजन मुख्यमंत्री विजयभाई रुपाणी के हाथों होना था। किन्तु उनकी तबियत ठीक नहीं होने के कारण मुख्यमंत्री की अनुपस्थित में राज्य सरकार के स्वास्थ्य मंत्री किशोरभाई कानाणी के हाथों प्रकल्पों का लोकार्पण तथा भूमिपुजन किया जायेगा।