सूरत : जैन परिवार में जन्मी जुड़वा बच्चियों का बाजे-गाजे से स्वागत


(PC : khabarchhe.com)

बेटी को लक्ष्मी का स्वरुप माना जाता है। ऐसे में सूरत में रहने वाले एक परिवार में विगत दिनों जुड़वा बच्चियों का जन्म होने पर परिवार में आनंद और उत्साह की लहर दौड़ पड़ी। घर में लक्ष्मीजी के आगमन सी खुशी परिवारजनों में दिखाई दे रही थी। इसी से उत्साहित होकर परिजनों ने बैंड-बाजे के साथ बेटियों का घर में स्वागत करते हुए नगरजनों को बेटी बचाओ का संदेश भी दिया।

(PC : khabarchhe.com)

जानकारी के अनुसार सूरत के नानपुरा क्षेत्र में रहने वाला यह जैन परिवार, जिसने बड़े उत्साह से इन बेटियों को अपनाने के साथ जोरदार ढंग से उत्सव मनाया वह मूल रूप से राजस्थान का वतनी है और सूरत में बसा हुआ है।

(PC : khabarchhe.com)

जैन परिवार के सदस्यों ने दोनों बच्चियों को बग्गी में बैठाकर ढोल-नगाड़े के साथ अस्पताल से घर लाया। बच्चियों को अच्छे से तैयार करके उनकी मां के साथ बग्गी में बैठाया गया और शहर के कतारगाम से जुलूस आकार में नानपुरा स्थित घर पहुंचे। घर पहुंचने पर आस-पडौस के लोग भी जश्न में शामिल हुए।