सूरत सिविल अस्पताल से बच्ची चुराने वाली महिला गिरफ्तार


चार दिन पूर्व सिविल अस्पताल से 25 दिन की मासूम बच्ची का अपहरण हुआ था।
Photo/Loktej

क्राईम ब्रान्च ने 25 दिवस की मासूम बच्ची को शहर के ही नवागाम क्षेत्र से सुरक्षित ढूंढ निकाला

सूरत। चार दिनों पूर्व सूरत सिविल अस्पताल से 25 दिन की मासूम बच्ची का अपहरण हुआ था। इस मामले में पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज के आधार पर जांच कर नवागाम डिंडोली से बच्ची चुराने वाली महिला को गिरफ्तार कर अपहृत मासूम बच्ची को सुरक्षित उसके परिजनों को सौंपा।

क्राईम ब्रान्च से मिली जानकारी के अनुसार गत 19-2-2019 को सूरत सिविल अस्पताल में केतकीबेन मनोजभाई गोस्वामी 25 दिन की अपनी बच्ची के साथ चिकित्सा सुविधा प्राप्त करने आयी थी। केतकीबेन चेकअप के लिए गायनेक वोर्ड में गयी, तभी बच्ची को जेठ कपुरचंद गोस्वामी को सौंप दिया था। इस दौरान बच्ची रोने लगी, तो एक अज्ञात महिला बच्ची को हाथों में उठाकर शांत करने के बहाने वोर्ड में यहां-वहां घूमने लगी। तभी अचानक नजर चुराकर वह अज्ञात महिला मासूम बच्ची को लेकर फरार हो गयी।

इस मामले की खटोदरा पुलिस थाने में शिकायत दर्ज हुयी थी। पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज के आधार पर जांच शुरू की थी। सिविल अस्पताल के सीसीटीवी फुटेज में बच्ची चुरानेवाली महिला जिस रिक्शा में बैठी थी, उस रिक्शा का नंबर लेकर उसके चालक से पुछताछ शुरू की गई। रिक्शा चालक ने महिला को बच्ची के साथ नवागाम डिंडोली रोड, चिंता चौक के पास 15 रुपये किराए लेकर उतारा था।

पुलिस की टीम पिछले दो दिनों से चींता चौक के आसपास की सोसायटियों में कड़ी जांच कर रही थी। क्राईम ब्रान्च की टीम ने सीसीटीवी फुटेज का बारीकी से निरीक्षण किया तो अपहरण करनेवाली महिला का स्पष्ट फोटो एक सीसीटीवी में फुटेज मिला। इस फोटो के आधार पर पुलिस ने अलग अलग टीमें बनाकर अपहरण करनेवाली महिला का सही पता पा लिया।

पूजा उर्फ रीना दिपक निंबा पाटिल उम्र 21, निवासी प्लोट नं. 14, नारायणनगर, नवागाम, डिंडोली – मुल निवासी वाघोदा, जिला जलगांव, महाराष्ट्र को बच्ची के साथ गिरफ्तार किया गया। प्राथमिक पूछताछ में पता चला कि महिला का पति भी इस हकिकत से अवगत होने के बावजूद उसके इस कृत्य में शामिल था, इसके फलस्वरुप उसे भी गिरफ्तार किया गया। महिला को कोई संतान न होने से उसने बच्ची का अपहरण करने की बात कबूली है। क्राईम ब्रान्च ने मासूम बच्ची को उसकी मां और परिवारजनों को सोपने पर भावुक द्रश्य दिखे।