सरकारी स्कूल के शिक्षक ने पहले ही दिन छात्रा से छेड़छाड़ की, अभिभावक ने उठाए ये कदम


(Photo Credit : youtube.com)

सोमवार से नया शैक्षणिक सत्र शुरू हुआ। पहले ही दिन सूरत में शिक्षा जगत को एक कलंक लगने वाली घटना सामने आई है। सूरत के सरकारी स्कूल के शिक्षक ने स्कूल शुरू होने के पहले ही दिन स्कूल की चौथी कक्षा की एक छात्रा पर गलत दृश्टी डाली। इस घटना के बाद, स्थानीय लोगों और अभिभावकों की भीड़ सबक सिखाने के लिए स्कूल पहुंची।

एक रिपोर्ट के अनुसार, सूरत के उमरपाड़ा इलाके में सरकारी स्कूल नंबर 190 के शिक्षक द्वारा स्कूल शुरू होने के पहले ही दिन कक्षा चार में पढ़ने वाली एक छात्रा के साथ छेड़छाड़ करने की कोशिश की। इस पूरी घटना की सूचना छात्रा द्वारा अभिभावकों को दी गई जिसके बाद स्थानीय लोग तथा छात्रा के अभिभावक स्कूल के पास इकट्ठा हुए। इससे पहले कि भीड़ शिक्षक पर हमला करती, पुलिस घटनास्थल पर पहुंच गई और आरोपी शिक्षक को गिरफ्तार कर थाने ले जाया गया। स्कूल में बड़ी संख्या में लोगों की भीड़ और लोगों में आक्रोष देखकर स्कूल के अन्य शिक्षकों में भी भय का माहौल देखा गया था। लोग इतने गुस्से में थे कि आरोपी शिक्षक को पुलिस के सिपाहियों के बीच जीप तक पहुंचना पड़ा।

इस प्रकार की घटना से यह सवाल उठता है कि जिस शिक्षक को बच्चों में अच्छे गुण सिखाना है। वही शिक्षक स्कूल शुरू होने के पहले ही दिन छात्रों पर बुरी नजर डालेगा। तो इन शिक्षकों से बच्चों को क्या शिक्षा मिलेगी? ऐसे शिक्षकों ते विरुद्ध तंत्र द्वारा कड़ी कार्यवाही करनी चाहिए ताकी समाज में एक संदेश पहुंचे। ताकी इस तरह की घटना दोबारा नहीं हो।