सहजानंद टेक्नोलोजिस (STPL) प्रतिष्ठित ‘पिनेकल एवोर्ड्स फोर एक्सेलन्स इन मैन्यूफेक्चरिंग’ से सम्मानित


दुनिया का पहला और एकमात्र डायमंड प्रोसेसिंग रोबोट STPLने ही बनाया है 

सूरत। स्थानीय सहजानंद टेक्नोलोजिस प्रा. लि. अर्थात STPL कंपनी को प्रतिष्ठित कन्फेडरेशन ऑफ इंडियन इन्डस्ट्रीज, CII द्वारा प्रदान किया जाने वाला ‘पिनेकल एवोर्ड्स फोर एक्सेलेन्स इन मैन्यूफेक्चरिंग’ खिताब दिया गया है। मुंबई में आयोजित एक कार्यक्रम में यह एवोर्ड STPL को प्रदान किया गया। STPL को यह एवोर्ड ओर्गेनाइज्ड एंड इम्पेक्टफूल R&D एफोर्ट्स के लिये दिया गया।

CII द्वारा ये एवोर्ड्स की शुरूआत मैन्यूफैक्चिंग क्षेत्र में उल्लेखनीय और नई प्रक्रियाओं के प्रोत्साहन हेतु प्रदान किये जाते हैं। जिससे भारतीय उद्योग के लिये भविष्यलक्षी और टिकाऊ विकास सुनिश्चित हो सके।

उल्लेखनीय है कि मुंबई में आयोजित इस एवोर्ड्स समारोह में एक अधिक श्रे‌‌णियों में देश की १५० से अधिक कंपनियों को नोमिनेट किया गया था। इन तमाम में STPL कंपनी को उसके विशेष और रोबोटिक R&D प्रयासों के लिये खिताब दिया गया। STPL गुजरात स्थित एकमात्र ऐसी कंपनी है जिसे यह एवोर्ड मिला है।

ज्ञात रहे कि STPL कंपनी हीरा उद्योग के लिये इनोवेटिव सोल्यूशन्स विकसित करती है और उद्योगों को कम से कम समय में अधिक उत्पादन प्राप्त करने तथा मानवीय भूलों को कम से कम करने में मदद करती है। STPL पहली और एकमात्र ऐसी कंपनी है जिसने दुनिया का सर्वप्रथम डायमंड प्रोसेसिंग रोबोट विकसित किया है।

STPL के चेरमेन धीरजलाल कोटडिया ने बताया कि नई खोजों और R&D के प्रयासों का मुख्य उद्देश्य केवल आर्थिक लाभ कमाना नहीं है, अपितु उससे समग्र उद्योग और समाज में परिवर्तन आना चाहिये।

STPL के सीईओ राहुल गायवाला ने बताया कि CII द्वारा दिया गया एवोर्ड विशेष रूप से हीरा उद्योग में उनके द्वारा किये गये इनोवेशन के लिये है। इनोवेशन से हमारी कल्पनाशीलता खिलती है और अंत में इनोवेशन में फलित होता है।

आज समग्र विश्व के हीरा उद्योग में STPL ही एकमात्र कंपनी है जो डायमंड मैन्यूफेक्चरिंग की समग्र प्रक्रिया जैसे कि डायमंड एनालिसिस एंड प्लानिंग, डायमंड कटिंग, ब्लोकिंग, पोलिशिंग और सेफ डायमंड ट्रेडिंग तक की सभी प्रक्रियाओं के लिये टोटल टेक्नोलोजी सोल्यूशन्स विकसित की है।