पुलवामा में शहीद जवानों के प्रति अपना समर्थन जताने से पीछे नहीं रहे सूरती


श्रद्वांजली सभाओं, रैलियों एवं दान का प्रवाह अविरत जारी

सूरत। विगत दिनों जम्मू-कश्मीर राष्ट्रीय राजमार्ग पर सीआरपीएफ जवानों पर हुए आतंकी हमले में शहीद हुए जवानों के प्रति अपना समर्थन जताने के लिये शहर में विभिन्न स्तर पर ढेरों कार्यक्रम आयोजित हुए हैं, और घटना के सप्ताह भर बाद भी रैलियों एवं स्मरणांजलि कार्यक्रमों के आयोजनों का सिलसिला कायम है। अब तक एक आकलन के मुताबिक लगभग १२०० से अधिक रैलियां सूरत में आयोजन हो चुका है।
कैंडल मार्च, रैलियों का दौर अविरत जारी है। न्यू सिविल अस्पताल में नर्सिंग स्टाफ एवं विद्यार्थियों एवं उन्हें परिजनों द्वारा हड्डियों के वॉर्ड में मोबत्तियां जलाकर श्रद्धांजलि सभा का आयोजन किया गया। सदगुरु श्री रोहिदास सत्संग मंडल द्वारा रोहिदास महाराज की ६४३वीं जन्म जयंति के अवसर पर सभा का प्रारंभ मौन अंजलि से किया गया। सहारा इंडिया परिवार द्वारा कैन्‍डल मार्च निकाल कर शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित की गई। मोरा भागल चौराहे पर जहांगीरपुरा की विविध सोसायटियों के निवासियों ने शहीदों की याद में शांतिसभा का आयोजन किया। इस प्रकार के कार्यक्रमों के अलावा शहीद परिवारों के प्रति दान और सहयोग का प्रवाह भी जारी है।