अब सूरत में चौबीस घंटे खुले रहेंगे मॉल और किराने की दुकानें


कोरोना संकट के चलते 21 दिनों के लॉक डाऊन के दौरान लोगों को कम से कम दिक्कतों का सामना करना पड़े और जीवन-जरूरत की चीजें आसानी से उपलब्ध हो सकें इसके लिये सूरत महापालिका आयुक्त बंछ्छानिधी पानी सहित अधिकारियों की गुरुवार को महत्वपूर्ण बैठक हुई। इस बैठक में यह निर्णय लिया गया कि जीवन-जरूरत की चीजों की खरीद के लिये भीड़ ना हो इसके लिये अब मॉल और किराने सहित ये सामान बेचने वाली दुकानें अपने-अपने क्षेत्र में चौबीसों घंटे खुली रह सकते हैं।

प्रशासन से संबंधित क्षेत्रों के दुकानदारों को भी इस संबध में सूचना दे दी है और आगाह भी किया है कि इस बात का ध्यान रहे कि खरीदारी के लिये भीड़ जमा न हो। सोशल डिस्टेंसिंग बनाये रखने के लिये लोगों को खरीद के लिये अधिक वक्त मिलने से वे एक ही समय दुकानों पर नहीं उमड़ेंगे।

इसके उपरांत सूरत एपीएमसी मार्केट से लोगों के घर फल और सब्जियां पहुंचें इसके लिये भी व्यवस्था की गई है। स्थानीय कूरियर कंपनियों के डिलीवरी बॉय की मदद से सीधे फल और सब्जियों की होम डिलीवरी करने का आयोजन किया गया है। इस बारे में जल्द ही प्रशासन जानकारी साझा करेगा।

वहीं सब्जियों की खरीद के लिये मंडियों में भीड़ ना हो इसके लिये सोसायटियों के गेट पर लॉरियां जाकर सब्जी विक्रय की व्यवस्था को बढ़ावा दिया जा रहा है।