माउंट एवरेस्ट फतेह करने वाली दोनों बहनों की माता का क्या है कहना


(Photo Credit : khabarchhe.com)

सूरत की दो बहनों अनुजा और अदिति ने कुछ ही समय पहले माउंट अवरेस्ट पर चढ़ाई पूर्ण की। जिससे उन्होने ना सिर्फ अपना और अपने परिवार का ही नहीं बल्की सूरत और गुजरात को भी नाम ऊंचा किया है। यही नहीं इससे पहले यह दोनों बहनें माउंट एकोंकागुआ भी फतेह कर चुकी हैं। इन दोनो बहनो का लक्ष्य विश्व के सात महाद्वीपों के सात बड़े पर्वत फतेह करने का है।

माता ने क्या कहा

ऐसे तो हमारा परिवार पहले से ही पर्वतारोहण करते रहे है। इसलिए मेरी दोनों लड़कियों को ज्यादा ट्रेनिंग करने की जरूरत नहीं पड़ी। उन्हे बचपन से ही प्रशिक्षण मिला हुआ है। इसलिए मेरी दोनों पुत्रियों को पता है कि, क्या तैयारी करनी है, साथ में क्या रखना है, किन चीजों का ध्यान रखना है आदि, वे बचपन से ही जानते हैं।

अगर मैं एक मां के रूप में बोलती हूं, तो मुझे लड़कों और लड़कियों से कोई फर्क नहीं पड़ता। जो चीज लड़के कर सकते हैं वही चीजें लड़कियां भी कर सकती हैं। इसके अलावा, मेरी दोनों बेटियां, अनुजा और अदिति के पिता उन्हें बताते हैं, अगर आप गाड़ी चलाने से पहले कार के टायर को चैक करना सीख जाओ, तो आपको कोई समस्या नहीं होगी।

अनुजा वैद्य और अदिति वैद्य दोनों बहनों ने 29 हजार फीट की ऊंचाई वाले माउंट एवरेस्ट को फतेह कर इतिहास रचा है। इस एवरेस्ट को फतह करने के लिए वह 30 मार्च से काठमांडू गए। एवरेस्ट को फतेह करने में उन्हें 40 दिन लगे। उनके साथ 15 अन्य पर्वतारोही और 25 शेरपा भी थे।